VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Tuesday 19th of February 2019 | दिग्गी का सिद्धू पर ट्वीटर बम

दिग्विजय ने सिद्धू पर बोला हमला, कहा- समझाओ अपने मित्र को, उसकी वजह से आपको गाली मिल रही है


पुलवामा हमले के बाद देश भर में चैतरफा आतंकवाद के खिलाफ गुस्से का माहौल है और जनता हमले का बदला लेने की मांग जोर शोर से कर रही है। इसी बीच पाकिस्तान को लेकर पहले से ही विवादों में घिरे पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को अब पार्टी के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने नसीहत दे दी है। दिग्विजय ने नवजोत सिद्धू को पाक के पीएम इमरान खान का दोस्त बताया है और ट्वीट कर कहा है कि अपने दोस्त इमरान भाई को समझाइए, उसकी वजह से ही आपको गाली पड़ रही है। दिग्विजय के इस बयान के बाद कांग्रेस में हड़कंप मच गया है।  दरअसल, बीते गुरुवार को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बयान देकर खुद को विवादों में झोंक दिया था। सिद्धू ने कहा था कि इस तरह के कायराना आतंकी हमले के लिए पूरे देश को जिम्मेदार ठहराना ठीक नहीं है। आतंकवादियों का कोई दीन और मजहब नहीं होता है। दुनिया में अच्छे, बुरे लोग हैं। हर संस्थान में ऐसे लोग होते हैं, हर देश में ऐसे लोग होते हैं, जो बुरे हैं, उसे सज़ा दी जानी चाहिए। लेकिन किसी बुरे इंसान के कायरतापूर्ण काम के लिए सबको दोष देना उचित नहीं है। सिद्धू के इस बयान के बाद से ही  देश में सियासी बवाल मचा हुआ है, लोगों में गुस्सा है और वे सिद्धू को पकिस्तान भेजने की बात कह रहे है। इसके चलते हाल ही में उन्हें  ‘द कपिल शर्मा शो’ से हटा दिया गया था।  अभी ये मामला ठंडा हुआ ही नहीं था कि अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा अटैक को लेकर सिलसिलेवार ट्वीट कर राजनैतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी है। दिग्विजय ने अपनी ही पार्टी के नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को ताना देते हुए कहा कि उन्हें अपने दोस्त इमरान खान को समझाना चाहिए

पाकिस्तान को दी चुनौती :

इसके अलावा दिग्विजय सिंह ने इमरान खान को भी चुनौती दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि ‘पाकिस्तान के श्रीमान प्रधानमंत्री कमऑन! कुछ साहस दिखाइए और हाफिज सईद और मसूद अजहजर आतंक के स्वघोषित सरगनाओं को भारत को सौंपिए। आप ऐसा कर न सिर्फ पाकिस्तान को आर्थिक संकट से निकालने में सक्षम होंगे, बल्कि नोबेल शांति पुरस्कार के भी प्रबल दावेदार बन जाएंगे।

मोदी समर्थकों पर भी साधा निशाना :

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी और आरएसएस के कठोर आलोचक माने जाते हैं। इस बार भी अपनी ट्वीट की सीरीज में उन्होंने मोदी के समर्थकों पर निशाना साधा। अगले ट्वीट में दिग्विजय ने लिखा मुझे पता है कि मोदी भक्त ट्रोल करेंगे, लेकिन मुझे इसकी परवाह नहीं है। इमरान खान को एक क्रिकेटर के तौर पर मैं पसंद करता हूं, लेकिन मुस्लिम कट्टरपंथियों और आईएसआई समर्थित गुटों का समर्थन कर रहे हैं। मैं इस पर यकीन नहीं कर पा रहा हूं।

कश्मीरियों को न करें परेशान :

पुलवामा हमले के बाद कश्मीरियों पर हो रहे हमले पर दिग्विजय सिंह ने कश्मीर के छात्रों और स्थानीय नागरिकों को उत्पीड़ित नहीं करने की अपील करते हुए कहा एक भारतीय के तौर पर क्या हम कश्मीरी छात्रों और कश्मीरी व्यापारियों को पूरे देश में परेशान करना नहीं छोड़ सकते हैं। क्या हम ऐसा कश्मीर चाहते हैं जिसमें कश्मीरी ही न हों, एक राष्ट्र के तौर पर हमें अपना विकल्प चुनना ही होगा।


बीजेपी नेताओं ने सोशल मीडिया में नाम के आगे लिखा चौकीदार

Yamaha Fascino स्कूटर का डार्कनाइट एडिशन हुआ लॉन्च, जानिए क्या है कीमत


 VT PADTAL