VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Friday 8th of March 2019 | नेताओं के बिगड़े सियासी बोल

दिग्गी पर हमलावर भार्गव का विवादित बयान, कहा- दिग्गी के मुंह और उंगली में है गुप्त रोग


मध्यप्रदेश में सियासी दल के नेताओं के आए दिन बिगड़े बोल साने नजर आ रहे है। लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं के बयानबाजी का दौर तेज हो गया है। भाजपा के दिग्गज नेता और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को लेकर विवादित बयान देकर सियासत को गर्म कर दिया है। दिग्विजय द्वारा पुलवामा में हुए आतंकी हमले को दुर्घटना करार देने पर भार्गव ने कहा दिग्विजय सिंह की उंगलियों और मुंह में एक गुप्तरोग है। जब भार्गव बोल रहे थे तब कई बड़े नेता मंच पर मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने भार्गव के बयान पर जमकर ठहाके भी लगाए। भार्गव के बयान के बाद राजनीतिक गलियारें में हड़कंप मच हुआ है। बयान के सामने आने के बाद कांग्रेस ने मोर्चा संभाल लिया है और नेता प्रतिपक्ष के बयान पर जोरदार पलटवार कर रही है। दरअसल, बीते दिनों कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बीते दिनों पुलवामा हमले के बाद आंतक के खिलाफ वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक को लेकर सवाल उठाये थे। दिग्विजय ने पुलवामा हमले को दुर्घटना बताते हुए एयर स्ट्राइक मे मारे गए आंतकियों की संख्या और सबूत मांगे थे।  जिसको लेकर दोनों खेमों में हंगामा बरपा हुआ था। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज से लेकर पीएम मोदी ने दिग्विजय को आडे़ हाथों लिया था। अब दिग्विजय पर हमला बोलने वालों में भाजपा के एक और नेता शामिल हो गए हैं। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिग्विजय को लेकर विवादित बयान देकर राजनीति मे हलचल पैदा कर दी है। शुक्रवार को सागर जिले के बामोरा गांव में आयोजित संयोजक पालक कार्यकर्ता सम्मेलन में भार्गव ने कहा कि दिग्विजय सिंह की उंगलियों और मुंह में गुप्त रोग है, इसलिए वह देश के खिलाफ बोलते है। जब तक वो अपनी उंगलियां नहीं चला लेते मोबाइल पर, जब तक अपने मुंह से कुछ देश के खिलाफ बयान नहीं दे देते,तब तक दिग्विजय सिंह को भोजन नहीं नसीब होता।  हैरानी की बात तो ये है कि कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद थे। जो सभा में उनके बयान पर ठहाके लगाते नजर आये। इससे अब तक यह साफ नहीं हो पाया कि दिग्गी के खिलाफ नेता प्रतिपक्ष ने इस बयान को देकर क्या आम लोगों के बीच क्या संदेश देना चाहते है। साथ ही सवाल यह भी कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में इस प्रकार के बयान को देकर किस प्रकार की राजनीति को जन्म देने का प्रयास किया जा रहा है।


सिंधिया के स्वागत में स्टेशन पहुंचे कार्यकर्ता आपस में भीड़े, चोरी का आरोप लग

कांग्रेस की 8 वीं लिस्ट जारी,पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भोपाल से प्रत्


 VT PADTAL