VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
VT ANALYSIS: क्या है मासूम की मौत का सच ?

VT ANALYSIS : क्या है 11 साल की मासूम संतोषी की मौत का कारण ? 


सिमडेगा(झारखंड)। झारखंड के सिमडेगा जिले में खाना ना मिलने से एक 11साल की बच्ची की मौत हो गई। जिसकी वजह आधार कार्ड, गरीबी, मलेरिया,राशन, सरकार या दुर्गापूजा की छुट्टी हो सकती है। कारण कुछ भी हो आगर 2017 में जब हर जहग विकास का रथ दौड़ रहा हो तो भूख से एक बच्ची की मौत कैसे हो सकती है ?
आखिर दुर्गापूजा की छुट्टी से कैसे हुई मौत ?
भूख से मरने वाली 11 साल की बच्ची संतोषी के दोपहर के खाने का इंतजाम मिड-डे मील के जरिए होता था। और दुर्गा पूजा की छुट्टियां होने की वजह से स्कूल बंद था जिस वजह से संतोषी के खाने का इंतजाम कई दिनों से नहीं हुआ, और उसके कई दुनों तक भूखे रहने से उसकी मौत हो गई। 
क्या आधार कार्ड है मौत का कारण ?
खाद्य सुरक्षा को लेकर काम करने वाली संस्था के सदस्यों ने रविवार को इस घटना का खुलासा किया है। संस्था की मानें तो करीमती गांव की संतोषी कुमारी की मौत पिछले महीने 28 तारीख को इसलिए हो गई, क्योंकि घर पर पिछले आठ दिन से राशन ही नहीं था।
राशन क्यूं नहीं था ?
संतोषी की मां कोईली देवी ने संस्था के सदस्यों को बताया कि आधार कार्ड लिंक नहीं होने की वजह से उन्हें फरवरी से ही पीडीएस स्कीम का सस्ता राशन नहीं मिल रहा था। इसी दौरान 27 सितंबर को संतोषी की तबीयत बिगड़ गई और उसके पेट में काफी दर्द होने लगा साथ ही भूख की वजह से उसका शरीर अकड़ गया और उसकी मौत हो गई। 
मलेरिया ? 
जलडेगा ब्लॉक डेवलपमेंट के ऑफीसर का कहना है कि संतोषी की मौत मलेरिया से हुई है। सच क्या है शायद सब को मालूम है। फिर भी सच का पता लगाना जांच करने का विषय है। 
झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज मामला सामने आने के बाद सिमडेगा उपायुक्त से 11 वर्ष की संतोषी की मौत के मामले में जानकारी ली है। और सिमडेगा के उपायुक्त को 24 घंटे में स्वयं पूरे मामले की निष्पक्षता से और त्वरित जांच करते हुए रिपोर्ट सौपने के निर्देश दिए है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पीड़ित परिवार को 50 हजार की सहायता देने का निर्देश दिया। 
 


 


कुमारस्वामी ने साबित किया बहुमत

वाराणसी: निर्माणाधीन फ्लाईओवर के स्लैब गिरने हुआ बड़ा हादसा, अब तक 12 की मौत  


 VT PADTAL