VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Friday 8th of March 2019 | जमीन को घोषित किया गया है कब्रिस्तान

जवा क्षेत्र में पुलिस ने पार की मानवता, जबरजस्ती खेत में दफनवाया शव


जिले के जवा क्षेत्र स्थित सितलहा गांव में शव दफनाने के लिए प्रशासनिक अमले ने  गरीब के  मड़ई पर लगी लकड़ियों का ही उपयोग कर डाला।  इस दौरान पुलिस कर्मियों ने मकान स्वामी के मना करने पर उसके साथ अभद्रता भी की। जिसका एक वीडियो वायरल हो रहा है।  जवा तहसील एवं थाना अंतर्गत सितलहा में शव को दफनाने को लेकर पुलिस, प्रशासनिक अफसरों व स्थानीय निवासी के बीच घंटो नोक झोक हुई। जिसमें भूस्वामी के खेत में खड़ी फसल को आवारा पशुओं से बचाने के लिए लगाए गए बाड़े को तहसीलदार के नेतृत्व में पुलिस कर्मियों ने बल पूर्वक हटा दिया। भूस्वामी द्वारा मना करने पर पुलिसकर्मियों व अधिकारियों ने उसके और परिवार वालों के साथ अभद्रता भी की। जानकारी के मुताबिक भूस्वामी के उस जमीन को प्रशासनिक अधिकारियां ने कब्रिस्तान घोषित कर दिया है। जबकि मालिक का कहना है कि इसकी जानकारी मुझे नहीं दी गई है और साथ ही उस स्थान तक पहुंचने के लिए सार्वजनिक रास्ते की भी कोई व्यवस्था नहीं की गई है। लेकिन अधिकारियों ने जमीन स्वामी की सारी बातों को दरकिनार कर पुलिस ने बल प्रयोग कर शव को दफना दिया। जिसका विरोध किए जाने पर पुलिस कर्मियों व अधिकारियों ने पीड़ित व उसके परिजनों को अशोभनीय शब्दों का प्रयोग करते हुए गाली गलौज की।


सगरा में अपहरणकर्ताओं ने किया युवक को अगवा करने की कोशिश, पुलिस ने दर्ज किया

जनपद सीईओ के साथ अराजकतत्व ने की मारपीट, मीटिंग की तैयारी में जुटे थे जनपद सी


 VT PADTAL