VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Monday 11th of March 2019 | बोले शिवराज पार्टी का फैसला होगा स्वीकार

दावेदारी को लेकर शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान, चुनाव लड़ेंगे नहीं लड़वाएंगे जरूर


लोकसभा चुनाव का बिगुल बजते ही सियासी खेमे में उथल पुथल तेज हो गई है। उम्मीदवारी को लेकर एक के बाद एक नेता अपने दावेदारी ठोक रहे है, इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान सामने आया है। लोकसभा चुनाव लड़े जाने के सवाल पूछने पर शिवराज का कहना है कि मैं देश-प्रदेश में चुनाव लड़वाउंगा और आगे पार्टी जो फैसला करेगी वह मुझे मंजूर होगा। वही पत्नी साधना सिंह के चुनाव लड़े जाने पर शिवराज ने कहा कि अभी कही से नाम प्रस्तावित नही है, फैसला पार्टी को करना है।

            दरअसल, विधानसभा चुनाव के बाद से ही शिवराज के विदिशा से चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही है, जिसका प्रतिनिधित्व फिलहाल विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कर रही हैं। सुषमा स्वराज पहले ही अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा कर चुकी हैं। हाल ही में भोपाल और छिंदवाड़ा से भी शिवराज का नाम आगे आया है, क्योंकि कमलनाथ यहां से विधानसभा चुनाव लड़ेंगें और उनकी जगह उनका बेटे नकुलनाथ यहां से लोकसभा चुनाव लड़ेंगें। इसी तरह कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी का नाम दौड़ में शामिल होने पर कयास लगाए जा रहे थे कि शिवराज की पत्नी साधना भी मैदान मे उतर सकती है। इसी बीच आज पत्रकारों से चर्चा के दौरान शिवराज ने साफ कर दिया कि वे मध्यप्रदेश में चुनाव लड़ेंगें नही बल्कि लडवाएंगें, हालांकि उन्होंने कहा कि आगे जो पार्टी का फैसला होगा मंजूर होगा। वहीं, पत्नी साधना सिंह के चुनाव लड़ने पर शिवराज ने कहा कि उनका कोई नाम नहीं चल रहा है। पार्टी को फैसला लेना है उन्हें चुनाव लड़ाना है या नहीं। पार्टी जो भी फैसला करेगी हमें स्वीकार होगा। हमारा टारगेट मध्य प्रदेश में पूरी 29 सीट जीतने का है। हम पिछली सफलता को दोहराएंगे।


शिव का कांग्रेस पर हमला- कर्जमाफी का वादा किया है निभाना तो पड़ेगा, अन्यथा हमे

कांग्रेस पार्टी की स्क्रीनिंग बैठक आज, प्रदेश की 16 सीटों पर प्रत्याशियों के


 VT PADTAL