VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Tuesday 12th of March 2019 | टिकट को लेकर तेज हुई दावेदारी

गौर ने भोपाल सीट से ठोकी ताल, कहा- 10 बार देखी विधानसभा अब देखेंगे दिल्ली


लोकसभा चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही दावेदारों ने टिकट के लिए ताल ठोकना शुरू कर दिया है। विधानसभा चुनाव में टिकट के लिए अपनी पार्टी को सांसत में फंसाने वाले पूर्व सीएम बाबूलाल गौर एक बार फिर मैदान में उतर गए है। साथ ही उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि वे लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए तैयार है। और इस बार भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा है कि मैने 10 बार विधानसभा देख ली अब दिल्ली देखने की इच्छा है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही कहा था गौर एक बार और इसलिए उन्हें उम्मीद है पार्टी टिकट देगी।

          पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने भोपाल संसदीय सीट से टिकट की मांग की है। 89 वर्षीय गौर को उम्रदराज होने के कारण पार्टी ने टिकट देने से इंकार कर दिया था। 2016 में उन्हें कैबिनेट से भी इसी कारण बाहर कर दिया गया था। लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले गौर ने पार्टी पर दवाब बनाकर गोविंदपुरा विधानसभा सीट से बहू कृष्णा गौर को टिकट दिला दिया था। अब गौर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं। गौर ने कहा कि मैं भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ूंगा। पार्टी ने 75 साल का बंदिश को खत्म कर समझदारी की है।

दिग्गी के ऑफर पर लगी थी क्लास

कांग्रेस के ऑफर पर गौर ने कहा दिग्विजय सिंह खुद प्रस्ताव लेकर आये थे, मैने उन्हें कहा था कि विचार करेंगे लेकिन संगठन महामंत्री रामलाल ने मेरी क्लास लेली थी। कहा ऐसे कैसे जा सकते हैं, उन्होंने कहा खुद के लिए टिकट चाहिए किसी और के लिए नहीं चाहिए।  10 बार विधान सभा देखी अब दिल्ली देखने की इच्छा है, मुझे पूरा भरोसा है,  पार्टी मुझे मौका देगी। पार्टी का जो भी फैसला हो हमें मान्य होगा। लेकिन उम्मीद है कि टिकट मुझे ही मिलेगा।


शिव का कांग्रेस पर हमला- कर्जमाफी का वादा किया है निभाना तो पड़ेगा, अन्यथा हमे

कांग्रेस पार्टी की स्क्रीनिंग बैठक आज, प्रदेश की 16 सीटों पर प्रत्याशियों के


 VT PADTAL