VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Tuesday 12th of March 2019 | अधिकारियों पर पक्षपात करने का आरोप

चांचौड़ा से पूर्व विधायक ने खोला मोर्चा, कलेक्टर पर लगाया पक्षपात करने का आरोप, निष्पक्ष मतदान पर भी उठाया सवाल


लोकसभा चुनाव की आचार संहिता जारी होने के बाद से सियासी दलों द्वारा प्रदेश के अधिकारियों पर सत्ता पक्ष के इशारे पर काम करने के आरोप लगने शुरू हो गए है। बीते पंद्रह वर्षों तक यह मुद्दा कांग्रेस उठती थी, लेकिन अब जब कांग्रेस सत्ता में है तो भाजपा इसको लेकर मैदान में नजर आ रही है। आपको बता दें कि गुना जिले की चांचौड़ा से भाजपा की पूर्व विधायक ममता मीना ने कलेक्टर और एसपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पूर्व विधायक ने जिले के आला अधिकारियों पर कांग्रेस के एजेंट के रूप में काम करने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि वे इस सम्बन्ध में चुनाव आयोग से शिकायत करेंगी।

दरअसल, पूर्व विधायक ममता मीना ने सोमवार शाम को अपने निवास पर पत्रकारवार्ता की। इस दौरान उन्होंने कहा हमारे अधिकारों का हनन हो रहा है, हमारे अधिकार जिले के अधिकारी अपने हाथों में रखना चाहते हैं, अधिकारी कांग्रेस के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। ऐसी स्तिथि में इनसे क्या न्याय की उम्मीद जनता करेगी जब वो जनप्रतिनिधियों को ही नहीं छोड़ रहे। बीजेपी विधायकों के साथ पक्षपात किया जा रहा है, हमारी विधायक निधि कलेक्टर ने रोक दी है। जबकि कांग्रेस विधायकों की निधि फाइलें बुलवा कर जारी कर दी। ऐसे हालातों में लोकसभा चुनाव निष्पक्ष तरीके से हो पाएंगे, संदेह की स्थिति है।


सिंधिया के स्वागत में स्टेशन पहुंचे कार्यकर्ता आपस में भीड़े, चोरी का आरोप लग

कांग्रेस की 8 वीं लिस्ट जारी,पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भोपाल से प्रत्


 VT PADTAL