VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Thursday 14th of March 2019 | उम्मीदवारी चयन की तैयारियां हुई तेज

कांग्रेस पार्टी की स्क्रीनिंग बैठक आज, प्रदेश की 16 सीटों पर प्रत्याशियों के चयन को लेकर किया जाएगा मंथन


लोकसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई है। पार्टियों द्वारा बेहतर उम्मीदवारों के चयन प्रक्रिया को लेकर काम तेज हो गया है। कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की सूचियां जारी करना शुरू कर दी है। पार्टी अब तक दो सूची जारी कर चुकी है,  जिसमें अधिकतर नाम उत्तरप्रदेश और महाराष्ट्र के हैं। मध्य प्रदेश को लेकर अब तक कोई अंतिम फैसला नहीं हो पाया है। उम्मीदवारों के नामों पर मंथन के लिए कांग्रेस पार्टी ने आज गुरूवार को दिल्ली में फिर स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक बुलाई है। जिसमें शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ शाम 5 बजे दिल्ली जाएंगे।

           स्क्रीनिंग कमेटी के इस बैठक में मप्र के सीएम कमलनाथ, प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया समेत अन्य राज्यों के कई बड़े नेता शामिल होंगे। माना जा रहा इस बैठक में प्रदेश की 12 से 15 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम फाइनल किए जा सकते हैं।आपको बता दें कि गुना.शिवपुरी संसदीय सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया और छिंदवाड़ा से कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ के टिकट फाइनल माने जा रहे है। इससे पहले सोमवार को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के निवास पर कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक हुई थी।

         बैठक में प्रदेश की 19 सीटों पर टिकट वितरण के फॉर्मूले पर चर्चा होगी। विधानसभा चुनाव के बाद से ही पार्टी लोकसभा चुनाव की तैयारियों मे जुटी हुई है, लेकिन प्रत्याशी चयन मे पार्टी फूंक-फूंक कर कदम रख रही है। नतीजतन प्रदेश की 8 से 10 सीटें ही ऐसी है, जिन पर अभी उम्मीदवारों को लेकर स्थिति साफ हो पाई है। बाकी सीटों पर पार्टी जिताऊ और दमदार उम्मीदवारों को ही मैदान में उतारना चाहती है। वहीं,  प्रदेश की कई सीटों पर दमदार चेहरे नहीं मिल पा रहे हैं। पार्टी के पास स्थानीय स्तर पर भोपाल, उज्जैन, इंदौर, देवास, मुरैना, भिंड, टीकमगढ़, खजुराहो, रीवा, सीधी,  विदिशा, बालाघाट, शहडोल, मंडला, जबलपुर समेत अन्य चार सीटों पर सर्व सम्मति से चुनाव लड़ाने के लिए उम्मीदवार ही नहीं है। हालाँकि दावेदार कई है, पार्टी नए चेहरे को मौक़ा दे सकती है। क्यूंकि विधानसभा चुनाव मे भी नए चेहरों से कांग्रेस को सफलता मिली थी।


शिव का कांग्रेस पर हमला- कर्जमाफी का वादा किया है निभाना तो पड़ेगा, अन्यथा हमे

कांग्रेस पार्टी की स्क्रीनिंग बैठक आज, प्रदेश की 16 सीटों पर प्रत्याशियों के


 VT PADTAL