VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Thursday 19th of October 2017 | भारतीय उच्चायोग ने जारी किया मेडिकल वीजा 

ट्वीटर पर पाकिस्तानी नागरिक ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मांगी मदद, भारतीय उच्चायोग ने जारी किया मेडिकल वीजा 


नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान के इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग को पाकिस्तानी बच्चे के इलाज के लिए भारत का वीजा जारी करने के निर्देश दिए हैं। बच्चे के पिता काशीफ ने भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से ट्विटर पर अब्दुल्लाह के इलाज के लिए वीजा जारी करने की अपील की थी। इसके साथ ही बच्चे के पिता ने बताया था कि, बच्चे को लीवर ट्रांसप्लांट के बाद इलाज के लिए भारत आने की जरुरत है। 
जिसके बाद बुधवार को विदेश मंत्री ने ट्विटर पर जवाब देते हुए कहा, 'आपके बच्चे का इलाज दवाइयों की वजह से नहीं रुकना चाहिए, मैंने भारतीय उच्चायोग को मेडिकल वीजा जारी करने के लिए कहा है, बच्चे के चाचा काशीफ ने बताया कि बच्चे की दवाइयां खत्म होने वाली है और तुरंत इलाज के लिए जरुरी मेडिकल सहायता जरुरी है, इसलिए, दूसरे ट्वीट में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि, मेडिकल वीजा एक पाकिस्तानी महिला के लिए भी मंजूर कर दिया गया है, जिसके लीवर का ऑपरेशन भारत में होना है। महिला के बेटे रफीक मेमन ने सुषमा स्वराज से बात कर अपनी मां के लिए वीजा जारी करने की अपील की थी।  जिसके बाद विदेश मंत्री स्वराज ने भी नाजीर के अनुरोध पर सकारात्मक जवाब दिया था।
सीमा पर तनाव के बावजूद और कई मुद्दों पर भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों में दिक्कतों के बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मानवता का परिचय देते हुए पाकिस्तानी नगारिकों के इलाज के लिए मेडिकल वीजा जारी किया है। 


भूकंप के झटकों से दहला इंडोनेशिया, अब तक 12 सौ से अधिक की मौत

अब सरकार ने माना 39 भारतीय मारे गए, परिजन बोले इतने दिन अधेरे में क्यों रखा गया


 VT PADTAL