VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Saturday 21st of October 2017 | कर्मचारी द्वारा ब्लैकमेलिंग

BMO के ऑफिस में काम करने वाल कर्मचारी निकला ब्लैकमेलर


रीवा। गंगेव ब्लाक के मेडिकल ऑफीसर डॉ.देवव्रत पांडेय को दो दिन पहले उनके ही ऑफिस में काम करने वाले एक कर्मचारी द्वारा ब्लैकमेलिंग का प्रयास किया गया था। दरअसल डॉ.देवव्रत पांडेय के ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारी रमेश पटेल ने डॉ.देवव्रत पांडेय को मोबाइल फोन के जरिए जान से मारने की धमकी दी थी। डॉ.देवव्रत पांडेय ने माले कि शिकायत मनगवां थाने में की थी। जिसके बाद पुलिस लगातार आरोपी की तलीश कर रही थी, और शुक्रवार के दिन आरोपी रमेश पटेल को गिरफ्तार कर लिया गया।

दरअसल पकड़ा गया आरोपी रमेश पटेल गंगेव स्वास्थ्य केन्द्र का ही कर्मचारी बताया जा रहा है। वह अस्पताल में लगी हुई एफआरबी वाहन का चालक है, और नशे का भी आदी है, आरोपी ने बीएमओ को ब्लैकमेल करने के इरदे से फोन लगाया था और तरह-तरह की धमकी दे रहा था। शिकायत मिलने के बाद पुलिस साइबर सेल की मदद से आरोपी की लोकेशन का पता लगाकर उसे उसके गांव से गिरफ्तार कर लिया गया। जिसके बाद पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूलते हुए पुलिस को पूरी जानकारी दे दी। फिलहाल पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। 


जुर्म की बादशाहत पाना चाहता था ये शख्स, पुलिस ने धर दबोंचा

नक्सलियों ने किया पोलिंग बूथ के पास IED ब्लास्ट, ITBP के जवान थे निशाने में


 VT PADTAL