VT Update
रीवा जिले में डिप्टी कलेक्टर का टोटा गिनती के अधिकारियों में फिर बांटे गए काम, 4 डिप्टी कलेक्टरों पर दोगुना से ज्यादा अनुविभाग का जिम्मा। रीवा वन विभाग के नए डीएफओ चंद्रशेखर सिंह ने संभाला पदभार विपिन पटेल हुए कार्यमुक्त, चार्ज संभालते ही चंद्रशेखर सिंह ने शुरू की विभागीय समीक्षा। मार्तण्ड सिंह जूदेव जू में उमड़ी पर्यटकों की भारी भीड़, 4040 पर्यटक पहुंचे चिड़िया घर, सफेद शेर को देख रोमांचित हुए लोग। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का बयान इतिहास गलत लिखा गया है, सिर्फ नेहरू-गांधी ने नहीं दिलाई आजादी, मीसा बंदियों के सम्मान कार्यक्रम में दिया बयान। नकल करते पकड़े गए mbbs छात्र ने हॉस्टल की छत से कूदकर दी जान, विदिशा के मेडिकल कॉलेज का मामला।
Sunday 7th of April 2019 | इनकम टैक्स की छापेमारी

इनकम टैक्स की बड़ी छापेमारी,सीएम के OSD के यहाँ पड़ा छापा


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ा हमला हुआ है। उनके भांजे रतुल पुरी, OSD (ऑफिस ऑन स्पेशल ड्यूटी) प्रवीण कक्कड़ एवं निजी सचिव राजेन्द्र मिगलानी के यहां आयकर विभाग ने छापामारी की है। मध्यप्रदेश, गोवा, दिल्ली सहित करीब 50 स्थानों पर 300 से ज्यादा अधिकारियों की टीम ने छापामारी की है। विशेष बात यह है कि आयकर विभाग दिल्ली की टीम ने कार्रवाई की है और वो अपने साथ सीआरपीएफ की फौज लेकर आई है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के OSD कक्कड़ के इंदौर के विजयनगर स्थित घर में रविवार तड़के छापेमारी की गई। नई दिल्ली से आयकर विभाग की टीम सुबह 3 बजे उनके घर पहुंच गई। टीम के साथ सीआरपीएफ की फोर्स भी मौजूद थी। तड़के 3 बजे से ही उनके घर पर छापेमारी शुरू कर दी गई और जिन चीजों को लेकर टीम को शक है, उनकी तलाश की जा रही है।

आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक करीब 50 जगहों पर छापेमारी की गई है। कक्कड़ के निवास के अलावा रतुल पुरी, अमीरा ग्रुप और मोजर बेर पर भी छापे मारे गए हैं। इंदौर के साथ ही भोपाल, गोवा और दिल्ली में 35 जगहों पर छापेमारी की गई। इस कार्रवाई में करीब 300 आयकर विभाग के अधिकारी जुटे हैं।

बताया जा रहा है की इसके अलावा कमलनाथ के करीबी राजेंद्र कुमार मिगलानी के ठिकाने पर भी छापेमारी हो रही है एवं 15 से भी ज्यादा अधिकारी छापेमारी की कार्यवाही कर रहे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले कक्कड़ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के साथ अटैच्ड थे। प्रवीण कक्कड़ सीएम कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और कांतिलाल भूरिया के काफी करीबी माने


दिग्गी : सरकार ने अलोकतांत्रिक तरीके से हटाया धारा 370

मंत्रियों के रिपोर्ट पर, पार्षद उम्मीदवारों को टिकट देगी कांग्रेस


 VT PADTAL