VT Update
पूर्व प्राचार्य पर दर्ज F.I.R रद्द करने की उठी मांग, प्राध्यापको ने की बैठक ब्रम्हण समाज ने सौपा एस.पी को ज्ञापन R.P.F के D.I.G विजय कुमार खातरकर रेलवे ने रेलवे अफसर की पत्नी के साथ की छेड़छाड़, नरसिंहपुर के पास ओवरनाइट एक्सप्रेस मे वारदात,F.I.R दर्ज इंदौर का देवी अहिल्याबाई होल्कर एयरपोर्ट अब बन गया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, सोमवार को पहली बार इंदौर से दुबई के लिए अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट ने भरी उड़ान राहुल के इस्तीफे के 50 दिन बाद भी अब तक किसी को नहीं चुना गया कांग्रेस अध्यक्ष , कर्नाटक विवाद सुलझने के बाद फैसले की उम्मीद भारतीय नौसेना की बढ़ाई जा रही ताकत, जल्द खरीदी जा सकती हैं 100 टारपीडो मिसाइल, 2000 करोड़ का टेंडर जारी
Saturday 21st of October 2017 | श्री राम की आरती करने पर मुस्लिम महिलाएं इस्लाम से खारिज

श्री राम की आरती करने पर मुस्लिम महिलाएं इस्लाम से खारिज


वाराणसी(यूपी)। दीपावली के दिन वाराणसी में भगवान श्री राम की अरती करने वाली कुछ महिलाओं पर विश्वविख्यात इस्लामिक शिक्षण संस्था दारुम उलूम देवबंद ने फतवा जारी कर इस्लाम से खारिज कर दिया है। इसके साथ ही मुस्लिन महिलाओं द्वारा दीपावाली के मौके पर भगवान श्री राम की आरती करने को लेकर दारूल  उलेमा ने अजीबोगरीब बयान दिया है। उलेमा ने अपने बयान में कहा है कि, अल्लाह के सिवा किसी और की पूजा अर्चना करने वाले मुस्लिम नहीं रहते। गौरतलब है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 18 अक्टूबर को अयोध्या में दिवाली उत्सव का आयोजन किया था, इसी दिन मुस्लिम महिलाओं के एक समूह ने वाराणसी में भगवान राम की पूजा और आरती की थी। 
हुकुलगंज की वरुणानगरम् कॉलोनी में नाजनीन की अगुवाई में महिलाओं के समूह ने आरती की थाल के साथ भगवान राम की उतारी और हनुमान चालीसा का पाठ किया। इस कार्यक्रम का आयोजन मुस्लिम महिला फाउंडेशन और विशाल भारत संस्थान की ओर सामाजिक सौहार्द का संदेश देने के लिए किया गया था। बता दें कि 2006 में वाराणसी स्थित संकट मोचन मंदिर में आतंकी बम धमाके के बाद से श्रीराम की आरती किए जाने की प्रथा चली आ रही है। उस समय से मुस्लिम महिला फाउंडेशन की प्रेसिडेंट नाजनीन और महिलाओं का एक समूह रामनवमी और दिवाली के मौके पर आरती और पूजा करता आ रहा है। 


 


एक देश एक चुनाव पर क्या आज़ बन पायेगी सहमति | ममता बनर्जी नहीं होंगी बैठक में श

भाजपा के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर नरेन्द्र मोदी और अमित शाह लेंगे फैसला,


 VT PADTAL