VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Wednesday 25th of October 2017 | टीपू सुल्तान पर बोले राष्ट्रपति कोविंद। 

कर्नाटक विधानसभा का 60वां स्थापना वर्ष समारोह,  टीपू सुल्तान पर बोले राष्ट्रपति कोविंद। 


बेंगलुरु(कर्नाटक)। कर्नाटक राज्य आज अपनी विधानसभा का 60वां स्थापना वर्ष समारोह मना रहा है। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी समारोह में उपस्थित रहे, जहां उन्होने अपने उद्बोधन के दौरान बताया कि, कर्नाटक विधानसभा का उद्घाटन अक्टूबर 1956 में राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने किया था। विधानमंडल एक ऐसा स्‍थान है, जहां विभिन्‍न मुद्दों पर चर्चा होती है, कुछ लोग मुद्दों पर अपनी असहमति जताते हैं और हर पहलू में चर्चा होने के बाद जनहित को ध्यान में रखते हुए किसी बात का निर्णय किया जाता है।  
इसी दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने टीपू सुल्तान को लेकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि टीपू सुल्तान की मृत्यु ब्रिटिश सेना के साथ ऐतिहासिक लड़ाई के दौरान हुई। वह युद्ध में तकनीक के इस्तेमाल में अग्रणी थे। राष्ट्रपति कोविंद की टीपू सुल्तान को लेकर ये टिप्पणी हालिया स्थिति में काफी अहम है। ऐसा इसलिए क्योंकि कर्नाटक सरकार ने ऐलान किया है कि हर साल 10 नवंबर को टीपू सुल्तान की जयंती का आयोजन किया जाएगा। हालांकि कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती मनाने को लेकर कई संस्थाओं ने विरोध जताया है। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने भी कर्नाटक के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर टीपू सुल्तान को हिंदू विरोधी और बर्बर हत्यारा और बलात्कारी बताते हुए राज्य में होने वाले टीपू सुल्तान की जयंती से जुड़े कार्यक्रमों में खुद को आमंत्रित नहीं करने को कहा था।


कांग्रेस की कार्य समिति गठित, इस बार दिग्विजय को नही मिली जगह

 पीएम मोदी दो दिवसीय पूर्वांचल दौरे पर, करोड़ों की योजनाओं का करेंगे शिलान्‍


 VT PADTAL