VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Thursday 26th of October 2017 | काम-धाम छोड़कर एक दूसरे पर तंज कसने में लगी है दोनों पार्टियां ।

कांग्रेस-बीजेपी में जुबानी जंग तेज, काम-धाम छोड़कर एक दूसरे पर तंज कसने में लगी है दोनों पार्टियां ।


कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली की आर्थिक नीतियों को लेकर उन पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीटर पर लिखा है कि " डॉ जेटली, नोटबंदी और GST से अर्थव्यवस्था ICU में है। आप कहते हैं आप किसी से कम नहीं, मगर आपके दवे में दम नहीं है।"राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साध रहे हैं और लगातार टैक्स बढ़ाए जाने की आलोचना कर रहे हैं। इसको लेकर लगातार दोनों ओर से जुबानी जंग भी देखने को मिल रही है।

राहुल गांधी ने सोमवार को गुजरात के गांधीनगर में पीएम मोदी और अरुण जेटली पर हमला करते हुए बोला था कि, जीएसटी का मतलब 'गब्बर सिंह टैक्स' है, जिसका नोटबंदी के बाद बदहाल देश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ा है। राहुल गांधी ने कहा था कि मोदी ने पिछले साल नोटबंदी को लागू कर देश की जनता को परेशान किया। जीएसटी को 'गब्बर सिंह टैक्स' बताने वाले राहुल गांधी के बयान पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी पलटवार करते हुए कहा है कि, "  जिन लोगों को टूजी स्पेक्ट्रम और कोयला आवंटन घोटालों की आदत है, उन्हें टैक्स देने मे परेशानी हो रही है।" जिसके बाद अब राहुल गांधी ने ट्वीटर के जरिए वित्त मंत्री अरुण जेटली पर तंज कसा है। 

वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी के साथ-साथ कई बड़े मुद्दों को लेकर कई मौकों पर अपने भाषणों में आर्थिक सुधारों को अर्थव्यवस्था के लिए कड़वी दवा बताया है। जिसे लेकर राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते नजर आ रहे है। 

दरअसल जीएसटी और नोटबंदी जैसे आर्थिक मुद्दों पर वित्त मंत्री अरुण जेटली और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आमने-सामने आ गए हैं। राहुल गांधी लगातार इन दोनों मुद्दों को गुजरात चुनाव में भुनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं। 24 अक्टूबर को गुजरात में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने जीएसटी का विरोध किया था। वहीं मंगलवार को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि, कांग्रेस जीएसटी का मतलब 'जेनुइन सिंपल टैक्स' है जबकि पीएम मोदी के जीएसटी का मतलब 'गब्बर सिंह टैक्स' यानी 'ये कमाई मुझे दे दे' है।  
 


 शिवराज के बेटे पर लगाये आरोपों पर राहुल गांधी ने दी सफाई

शशि थरूर के बयान पर बीजेपी ने जताई आपत्ति, संबित पात्रा ने कहा राहुल गाँधी तु


 VT PADTAL