VT Update
उज्जैन सांसद चिंतामणि ने किया दावा, लोकसभा चुनाव में भाजपा जीतेगी प्रदेश की 29 सीटें। मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद शुरू हुई उलटफेर की राजनीति, कांग्रेस ठोक रही सरकार बनाने के दावा, कामत को नया सीएम बनाने की चर्चा तेज भिंड जिले के खड़ेरीपुर में मामूली विवाद में चली गोली, दो लोगों की मौत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल। लोकसभा चुनाव को लेकर जारी उठा-पटक, दिग्गी ने स्वीकार किया सीएम नाथ का चैलेंजे, बोले- पार्टी जहां से बोले वहां से लडूंगा चुनाव। कार्रवाई का लेखाजोखा पेश न करने वाले प्रदेश के दस जिलों के थाने आयोग की रडार पर, लापरवाही बरतने पर थाना प्रभारियों पर गिर सकती है गाज
Friday 27th of October 2017 | अश्लील सीडी मामला

अश्लील सीडी बनाकर ब्लैकमेलिंग करने के आरोप में वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा गिरफ्तार


गाजियाबाद। जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को छत्तीसगढ़ पुलिस ने उनके गाजियाबाद के इंदिरापुरम इलाके में स्थित घर से गिरफ्तार किया है। रायुपर पुलिस की एक टीम ने वर्मा को ब्लैकमेलिंग और उगाही के केस में गिरफ्तार किया है। ट्रांजिट रिमांड के लिए रायपुर पुलिस विनोद वर्मा को गाजियाबाद कोर्ट ले गई है।

वर्मा को गिरफ्तार करने वाली रायपुर पुलिस टीम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि प्रकाश बजाज नाम के एक शख्स की शिकायत के आधार पर गिरफ्तारी की गई है। पुलिस ने बताया कि बजाज ने अपनी शिकायत में कहा है कि खुद को विनोद वर्मा बताने वाले एक शख्स ने उसे फोन पर धमकी दी और किसी अश्लील सीडी का हवाला देकर ब्लैकमेल करने की कोशिश की।

रायपुर पुलिस ने बताया कि विनोद वर्मा के बारे में सुराग एक सीडी बनानेवाले से मिला। पुलिस का दावा है कि सीडी बनानेवाले ने ही उसे विनोद वर्मा का नंबर दिया और बताया कि उन्होंने सेक्स सीडी की 1000 प्रतियां बनवाई हैं। रायपुर पुलिस ने बताया कि वर्मा के पास से 500 सीडी बरामद हुई है और ये एक ही की कॉपी थी।

आईजी प्रदीप गुप्ता का कहना है कि विनोद वर्मा के घर से 500 सीडी के साथ पेन ड्राइव और पैसे बरामद किए गए हैं। प्रेस वार्ता में जब आईजी से पूछा गया कि पुलिस को पता है कि प्रकाश वर्मा भाजपा से जुडा है, तो उन्होंने कहा कि इस बारे में हमें कोई जानकारी नहीं है, कार्रवाई तो केवल उनकी शिकायत पर की गई है। आईटी एक्ट 68 की श्रेणी में इस मामले में अपराध दर्ज किया गया है।

वहीं वरिष्ठ पत्रकार विनोद गुप्ता की गिरफ्तारी के बाद देश के कई नामी पत्रकारों ने पुलिस की कार्रवाई पर संदेह जताते हुए गलत बताया है। साथ ही सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अश्लील सीडी में जो व्यक्ति दिख रहा है वो छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार का मंत्री है जिसे बचाने के लिए सरकार द्वारा इस तरह के प्रयास किए जा रेह है।  


 


Realme 3 भारत में हुआ लॉन्च, Redmi Note 7 को दे सकता है टक्कर

Samsung Galaxy A50, Galaxy A30 और Galaxy A10 भारत में हुआ लॉन्च, जानिए क्या है खासियत


 VT PADTAL