VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Saturday 28th of October 2017 | सेक्स CD कांड : गरमाई छत्तीसगढ़ की राजनीति

सेक्स CD कांड में बघेल के खिलाफ केस दर्ज, गरमाई छत्तीसगढ़ की राजनीति


रायपुर(छत्तीसगढ़)।  छत्तीसगढ़ में हुए सीडी विवाद के बाद अब राज्य की राजनीति भी गर्मा गई है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा है कि, बीजेपी ने नैतिकता को ताक पर रख दिया है और बड़ी बेशर्मी से राजेश मूणत को बचा रही है। शनिवार की सुबह आईटी एक्ट के तहत भूपेश बघेल और विनोद वर्मा के खिलाफ रायपुर में एफआईआर दर्ज कराई गई है। जिसके विरोध में भूपेश बघेल ने कहा कि, बीजेपी सवाल उठाने वालों के खिलाफ एफआईआर करा रही है। 
आप को बता दें इससे पहले छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) प्रदीप गुप्ता और पुलिस अधीक्षक (एसपी) संजीव शुक्ला ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में गिरफ्तार किए गए पत्रकार विनोद वर्मा अश्लील सीडी बनाकर ब्लैकमेलिंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पूरे मामले पर छत्तीसगढ़ आईजी प्रदीप गुप्ता ने प्रेसकांप्रेंस के दौरान बताया था कि, विनोद वर्मा ने ब्लैकमेलिंग करने के लिए रायपुर के पंडरी थाना क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति के मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया था। 
उन्होंने कहा कि रायपुर की स्टेट कॉलोनी निवासी प्रकाश बजाज ने पुलिस को बताया था कि एक अज्ञात व्यक्ति उनके घर के फोन नंबर पर कुछ दिन पहले धमकी देकर रुपये मांग रहा था। इस संबंध में बजाज ने 26 अक्टूबर को थाना पंडरी में प्रथम सूचना दी थी। उन्होंने कहा कि फोन पर कहा गया, "मेरे पास तुम्हारे आकाओं का अश्लील वीडियो है, जिसका सीडी बनाकर मैं बंटवा दूंगा। अगर तुम और तुम्हारे आका चाहते हो कि मैं ऐसा न करूं, तो मुझसे मिलो और मेरे बताए मुताबिक रुपये मुझे दे दो."
इसके साथ ही पत्रकारों द्वारा सवाल पूछेजाने पर पुलिस की कार्यप्रणाली को साफ करने के लिए आईजी ने कहा कि चेन स्नैचिंग के मामले में जांच के लिए टीम पहले से ही दिल्ली में मौजूद थी। और उसी टीम को मामले की जांच करने के कहा गया था।  
 


बावरिया की बैठक में फिर हुआ बवाल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आपस में किया विवा

“कामदार या नामदार” ,आगामी चुनाव में टिकट को लेकर घमासान शुरू


 VT PADTAL