VT Update
रीवा के विकास कार्यों में लगा ग्रहण, 250 करोड़ के प्रोजेक्ट अटके, 1 साल की प्रदेश सरकार की मंशा पर उठे सवाल रीवा में कोहरे की चादर 15 डिग्री सेल्सियस तापमान, दिनभर छाई रही बदली मध्य प्रदेश सरकार के अभियान ‘शुद्ध के लिए युद्ध’ में दौडा भोपाल, मिलावट के खिलाफ शुरू हुआ अभियान 20,000 से ज्यादा लोग अभियान में रहे शामिल पीएनबी ने छिपाया अपना 2617 करोड़ रुपए का डूबा हुआ कर्ज आरबीआई की जांच में खुलासा 2018-19 में छुपाया था एनपीए 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित, पूरी दुनिया एक साथ लेगी चाय की चुस्की, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकारा भारत का 4 साल पहले का प्रस्ताव
Thursday 6th of June 2019 | बड़बोलपन पर फंसे मंत्री जी...!

बिहारः धनबाद कोर्ट ने मंत्री के खिलाफ जमानती वारंट जारी करने का दिया आदेश


धनबाद बिहार के न्यायिक दंडाधिकारी आरके सिंह की अदालत ने केंद्रीय कृषि ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के खिलाफ जमानती वारंट जारी करने का आदेश दिया है। शिकायतकर्ता के अधिवक्ता एचएन सिंह ने कोर्ट में अपील की कि निचली अदालत के आदेश के बावजूद आरोपी मंत्री अदालत में हाजिर नहीं हो रहे हैं। इसलिए उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया जाए। वहींतोमर के वकील अजय कुमार त्रिवेदी ने दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 205 के तहत आवेदन दायर कर उन्हें सशरीर हाजिर होने से मुक्त करने व उनकी ओर से प्रतिनिधित्व आवेदन स्वीकार करने का अपील दायर किया। अदालत ने शिकायतकर्ता को उसका प्रतिउत्तर दायर करने का निर्देश देते हुए मामले की सुनवाई पांच जुलाई को करने का फैसला लिया है।

 दरअसल 19 जनवरी 16 को केंद्रीय मंत्री तोमर धनबाद में थे। इस दौरान उन्होंने टाउन हॉल में सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मूंछ के बाल हैं,जबकि कांग्रेस नेता राहुल गांधी पूंछ के बाल हैं। उनके इस कथन से कांग्रेस कार्यकर्ता मोहम्मद कलाम आजाद को आघात लगा और मान सम्मान को ठेस पहुंचा। जिसके बाद उन्होंने मंत्री के खिलाफ कोर्ट में अवमानना की याचिका दाखिल की। जिस पर सुनवाई के दौरान मंत्री कोर्ट में सशरीर पेश नहीं हो रहे थे। जिसके बाद शिकायतकर्ता पक्ष ने कोर्ट से मंत्री के खिलाफ जमानती वारंट जारी करने की मांग की है।


चिदांबरम के विरोध में आए कमलनाथ के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा,  मोदी सरकार का कि

सिंधिया के बदले सूर पर पूर्व मंत्री पवैया का हमला, सवाल दागते हुए दिया निमंत


 VT PADTAL