VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
 " घोटालेबाज भाजपा"

 " घोटालेबाज भाजपा" शिवसेना ने जारी की बुकलेट


महाराष्ट्र। महाराष्ट्र में बीजेपी की सहयोगी कहेजाने वाली शिवसेना पिछले कई दिनों से बीजेपी पर हमला करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रही है। शिवसेना ने देवेंद्र फडणवीस सरकार के तीन साल पूरे होने पर एक और हमला किया है। इस बार शिवसेना कार्यकर्ता एक बुकलेट बांट रहे है जिसका शीर्षक है घोटालेबाज भाजपा। दरअसल हाल ही में देवेंद्र फड़नवीस ने शिवसेना पर आरोप लगाया था कि शिवसेना दोहरी भूमिका निभा रही है वह कभी सहयोगी तो कभी विपक्षी दल बन जाती है।

"घोटालेबाज भाजप" नाम की इस किताब में बीजेपी के प्रमुख नेता और पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे की तस्वीर लगी हई है जिसके नीचे जमीन घोटाले का जिक्र किया गया है। और वहीं दूसरी तरफ शिक्षा मंत्री विनोद तावडे की तस्वीर लगी हुई है जिसमे अग्रिशमन यंत्र घोटाले का जिक्र किया गया है।

इस किताब में ऐसे ही 10 मंत्रियों की तस्वीरों के साथ अलग-अलग घोटालों का जिक्र किया गया है। 56 पन्नों की इस बुकलेट में भाजपा संसद किरीट सौमय्या और मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शोलार जैसे लोगों पर निशाना साधा गया है। इसके साथ ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नारेंद्र मोदी पर भी हमला किया गया है। 

महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार के तीन साल पूरे होने पर बीजेपी अपनी उपलब्धियों और विकास कार्यों को बताने जनता के बीच जाकर सभाएं कर रही है। जिसके विरोध में सरकार में रहकर भी विपक्ष की भूमिका निभाने वाली शिवसेना ने बीजेपी के लिए बुकलेट जारी कर नई मुसीबत पैदा कर दी है। इधर शिवसेना सिप्रिमों उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार की घोर विरोधी मानी जाने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात कर शिवसेना और बीजेपी के बीच होने वाले शीतयुद्ध को और तेर कर दिया है। 


 


रामदेव की टिप्पणी से आहत हुई उमा, पत्र लिख जताई नाराजगी

कमलनाथ की पहली लिस्ट पर ही खड़े हुए सवाल


 VT PADTAL