VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Sunday 5th of November 2017 | शौचालय घोटाले में नीतीश ने क्या खाया ?

मुझे कहते है मैने चारा खाया, शौचालय घोटाले में नीतीश ने क्या खाया ? : लालूप्रसाद यादव


पटना(बिहार)। राजद सुप्रीमो लालूप्रसाद यादव शनिवार को अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में शौचालय, सृजन, छात्रवृत्ति एवं टॉपर घोटाले का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि आखिर इतने सारे घोटालों के पैसे कहां जाते हैं। घोटालों के मुद्दे पर लालू ने जदयू महासचिव आरसीपी सिंह पर फिर हमला किया। उन्हें नीतीश का किंगपिन बताते हुए कहा कि वह घोटाले का पैसा लेते हैं। इसके साथ हि शौचालय घोटाले की राशि को लालू ने अरबों रुपये में बताया और कहा कि सिर्फ पटना जिले में ही 15 करोड़ रुपये का मामला सामने आया है। पूरे प्रदेश में एनजीओ को पैसा ट्रांसफर किया गया। सही से जांच की जाए तो मामला अरबों रुपये में पहुंच सकता है। लालू ने कहा कि मेरे बारे में कहा जाता है कि मैंने चारा खाया तो क्या अब नीतीश से पूछा जाएगा कि शौचालय घोटाले में उन्होंने क्या खाया? लालू प्रसाद यादव ने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि न खायेंगे और न खाने देंगे। तो अमित शाह के बेटे की संपत्ति कैसे इतनी बढ़ गयी।   

नोटबंदी का मुद्दा उठाते हुए लालू ने केंद्र सरकार पर भी हमला बोला और कहा कि भुखमरी के मामले में भारत 20वें नंबर पर है। नोटबंदी की मार से जनता परेशान है और जीएसटी किसी की समझ में नहीं आ रहा है। लालू ने कहा कि नोटबंदी के विरोध में सभी दल 8 नवंबर को काला दिवस मनाएंगे। 

अपने आरोपी की ट्रेन को रोकते हुए लालू ने प्रसिद्ध ज्योतिषी शंकर चरण त्रिपाठी को राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाए जाने की घोषणा करते हुए मीडिया से मिलवाया। त्रिपाठी चित्रकूट के रहने वाले हैं। इसके पहले एक निजी चैनल के साथ ज्योतिषी के रूप में संबद्ध थे। उन्होंने खुद को यूपी के वाणिज्यकर विभाग का पूर्व असिस्टेंट कमिश्नर भी बताया। 
 


बावरिया की बैठक में फिर हुआ बवाल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आपस में किया विवा

“कामदार या नामदार” ,आगामी चुनाव में टिकट को लेकर घमासान शुरू


 VT PADTAL