VT Update
देवर ने अपनी ही भाभी के ऊपर कुल्हाड़ी से वार कर उतारा मौत के घाट, सीधी जिले के हरडोल की है घटना , भाइयों के बीच चल रह था जमिनी विवाद 50 फीसदी से कम अंक पाने वाले अयोग्य शिक्षकों ने दी परीक्षा , तीन से चार दिन में आएगा परिणाम , नंबर कम आने पर सेवा से होंगे बाहर . पदोन्नति में आरक्षण के मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में प्रदेश सरकार कर्मचारियो के लिए आज दाखिल करेगी अर्जी , बिना पदोन्नति के हजारो कर्मचारी सेवानिवृत, सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाई नेत्रहीन महिला आईएएस प्रांजल पाटिल ने संभाला कार्यभार, देश की पहली नेत्रहीन आईएएस है प्रांजल , रेलवे में नौकरी न मिलने के बाद ठानी आईएएस बनने की नरसिंहपुर में 70 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण करने पहुचे मुख्यमंत्री कमलनाथ कहा- कृषि में नई क्रांति लाने की आवश्यकता, कृषि क्षेत्र की उन्नति और किसानो की आय बढ़ने को लेकर होगा व्यापक सुधार
Monday 22nd of July 2019 | भारत ने हासिल की बड़ी कामयाबी, चंद्रयान-2 ने भरी उड़ान

आज का दिन भारत के लिए ऐतिहासिक, गौरवान्वित हुआ भारत, चंद्रयान-2 हुआ लॉन्च


हमारा देश, प्राचीन सभ्यता, संस्कृति, विभिन्न समुदाय का एक बड़ा ही अद्भद केंद्र है| आज का दिन भारत देश और देश लोगों के लिए बड़ा ही ऐतिहासिक है| आज भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने इतिहास रचते हुए अंतरिक्ष में एक बड़ी कामयाबी हासिल कर ली है। इसरो का ‘बाहुबली’ रॉकेट GSLV Mk-III अपने साथ चंद्रयान-2 को लेकर उड़ान भर चुका है। चंद्रयान-2 की सफलता पर भारत ही नहीं, पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हैं। चंद्रयान-1 की सफलता को आगे बढ़ाते हुए चंद्रयान-2 चांद पर पानी की मौजूदगी से जुड़े कई ठोस नतीजे देगा। चंद्रयान-2 भारत के लिए दूसरा सबसे महत्वाकांक्षी चंद्र मिशन है| इसे श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से भारी-भरकम रॉकेट जियोसिन्क्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल-मार्क 3 (GSLV Mk-III) से लॉन्च किया गया है| पहले यह प्रक्षेपण 15 जुलाई की तड़के दो बजकर 51 मिनट पर प्रस्तावित था। हालांकि प्रक्षेपण से करीब घंटे भर पहले तकनीकी खामी के कारण अभियान को रोकना पड़ा था।

आपको बता दें कि चंद्रयान-2 का बजट 978 करोड़ रुपये है और इसका मकसद भारत को चंद्रमा की सतह पर उतरने और उस पर चलने वाले देशों में शामिल करना है| और अब इसरो इतिहास रचने को तैयार है| पूरा देश उन्हें शुभकामनाएं भेज रहा है| सारा देश इसके लिए उत्सुक है| चंद्रयान-2 चांद पर तय तारीख 7 सितंबर को ही पहुंचेगा। इसे समय पर पहुंचाने का मकसद यही है कि लैंडर और रोवर तय शेड्यूल के हिसाब से काम कर सकें। समय बचाने के लिए चंद्रयान पृथ्वी का एक चक्कर कम लगाएगा। पहले 5 चक्कर लगाने थे, पर अब 4 चक्कर लगाएगा। इसकी लैंडिंग ऐसी जगह तय है, जहां सूरज की रोशनी ज्यादा है। रोशनी 21 सितंबर के बाद कम होनी शुरू होगी। लैंडर-रोवर को 15 दिन काम करना है, इसलिए समय पर पहुंचना जरूरी है।

आपको बता दें कि चंद्रयान-2 को भारत के सबसे ताकतवर जीएसएलवी मार्क-III रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा। इस रॉकेट में तीन मॉड्यूल ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) होंगे। इस मिशन के तहत इसरो चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडर को उतारेगा। इस बार चंद्रयान-2 का वजन 3,877 किलो होगा। यह चंद्रयान-1 मिशन (1380 किलो) से करीब तीन गुना ज्यादा है। लैंडर के अंदर मौजूद रोवर की रफ्तार 1 सेमी प्रति सेकंड रहेगी। अलग-अलग चरणों में सफर पूरा करते हुए चंद्रयान-2 सात सितंबर को चांद के दक्षिणी धु्रव की निर्धारित जगह पर उतरेगा।

बताते चलें कि अब तक विश्व के केवल तीन देशों अमेरिका, रूस व चीन ने चांद पर अपना यान उतारा है। 2008 में भारत ने चंद्रयान-1 लांच किया था यह एक ऑर्बिटर अभियान था। ऑर्बिटर ने 10 महीने तक चांद का चक्कर लगाया था। चांद पर पानी का पता लगाने का श्रेय भारत के इसी अभियान को जाता है। इसे इसरो का सबसे मुश्किल अभियान माना जा रहा है। सफर के आखिरी दिन जिस वक्त रोवर समेत यान का लैंडर चांद की सतह पर उतरेगा, वह वक्त भारतीय वैज्ञानिकों के लिए किसी परीक्षा से कम नहीं होगा। चंद्रयान-2 के तीन हिस्से हैं-ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर। अंतरिक्ष वैज्ञानिक विक्रम साराभाई के सम्मान में लैंडर का नाम विक्रम रखा गया है। वहीं रोवर का नाम प्रज्ञान है, जो संस्कृत शब्द है, जिसका अर्थ होता है ज्ञान। चांद की कक्षा में पहुंचने के बाद लैंडर-रोवर अपने ऑर्बिटर से अलग हो जाएंगे।        


अब गूगल से  पता चलेगा आपका पासवर्ड हैक हुआ है या नहीं

जिंदगी के इस पड़ाव में भी लता मंगेशकर है काफी ज़िंदादिल, 90 साल की उम्र में इंस्ट


 VT PADTAL


 Rewa

ससुराल वालों पर लगा दहेज़ प्रताड़ना का आरोप, परिजनों के मुताबिक महिला को किया आग के हवाले
Wednesday 16th of October 2019
सरदार सेना एवं पिछड़ा वर्ग सामाजिक संगठन ने दिया धरना, लौह पुरुष की प्रतिमा तोड़ने पर किया जाएगा उग्र आंदोलन
Wednesday 16th of October 2019
अखिल भारतीय ब्रम्हण समाज के प्रदेशाअध्यक्ष ने आयोजित की प्रेसवार्ता, कांग्रेस शहर अध्यक्ष पर लगाया आरोप, माफ़ी ना मागने पर पुतला फुकने की दी चेतावनी
Wednesday 16th of October 2019
बीजेपी महिला नेत्रियो ने निगमायुक्त भेंट की चूड़ी, निगमायुक्त को विकास विरोधी दिया करार
Wednesday 16th of October 2019
रीवा पुलिस ने किया चोरी का खुलासा आरोपियों को किया गया गिरफ्तार
Monday 14th of October 2019
युवक का अपहरण कर पेड़ से बांधकर पीटा, 4 गिरफ्तार, इटौरा बायपास पर हुई वारदात
Monday 14th of October 2019