VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
2जी स्पेकट्रम घोटाला

2जी स्पेकट्रम घोटाले पर 5 दिसंबर को होगी अगली सुनवाई 


नई दिल्ली। सीबीआई की विशेष अदालत में 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले से जुड़े तीन मामलों पर अब पांच दिसंबर को अगली सुनवाई होनी है। जिसमे अंतिम फैसले की तारीख भी निर्धारित की जाएगी। 
सीबीआई के पहले केस मे पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और डीएमके कि नेता कनिमोझी सहित कई हाईप्रोफाइल उद्योगपतियों पर भी आरोप है। इसके अलावा तीन टेलीकॅाम कंपनीयों पर भी इस मामले में केस चला है जिसमें स्वान टेलिकॅाम प्राइवेट लिमिटेड, रिलांयस दूरसंचार मंत्री, और युनिटेक वॅायरलेस लिमिटेड शामिल है। बतादें तमिलनाडू की अदालत ने अक्टूबर 2011 को तीनों के खिलाफ आरोप तय किए था। 

सीबीआई ने राजा समेत अन्य अरोपियों के खिलाफ अप्रैल 2011 में आरोप पत्र दाखिल किया था और आरोप लगाया था कि 122 लाइसेंस के आवंटन से 30,984 करोड़ रूपये का नुकसान हुआ था जिसे 2 फरवरी 2012 को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया था और अदालत ने 154 गवाहों के बयान दर्ज किए थे जिसमें अनिल अंबानी, उनकी पत्नी टीना अंबानी और नीरा राडिया के नाम शामिल हैं। 

सीबीआई के दूसरे केस में एस्सार ग्रुप के प्रमोटर रवि रुइया और अंशुमान रुइया, लूप टेलीकॅाम के प्रमोटर किरण खेतान और उनके पति आईपी खेतान और एस्सार समूह के निदेशक विकाश सरफ आरोपी हैं सीबीआई के आरोप  पत्र में लूप टेलीकॅाम लिमिटेड, लूप मोबाइल इंडिया लिमिटेड और एस्सार टेली होल्डिंग के नाम भी हैं 

सीबीआई के तीसरे आरोप पत्र में प्रवर्तन निदेशालय ने अप्रैल 2014 में 19 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था इस मामले में ए राजा, कनिमोझी सहित कई नाम मनी लंड्रिग मामले में भी शामिल है। 
 


कुमारस्वामी ने साबित किया बहुमत

वाराणसी: निर्माणाधीन फ्लाईओवर के स्लैब गिरने हुआ बड़ा हादसा, अब तक 12 की मौत  


 VT PADTAL