VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Tuesday 7th of November 2017 | नोटबंदी अर्थव्यावस्था और लोकतंत्र का काला दिन: मनमोहन सिंह

अहमदाबाद में बोले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, नोटबंदी अर्थव्यावस्था और लोकतंत्र का काला दिन


अहमदाबाद(गुजरात)। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को नोटबंदी को एक विनाशकारी आर्थिक नीति कहा था वहीं मंगलवार को अहमदाबाद में पूर्व पीएम ने फिर से सरकार को करारा जबाव देते हुए कहा कि 8 नबंवर भारत के लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन है।  दुनिया के किसी भी देश ने यह फैसला नहीं लिया जिसमें 86 फीसदी करेंसी को एक साथ वापस लिया गया हो मनमोहन सिंह ने कहा कैशलेस इकोनामी को बढ़ावा देने के लिए नोटबंदी का फैसला गलत था।

मनमोहन सिंह ने सरकार के नोटबंदी वाले फैसले में निशाना साधते हुए कहा कि, जो मैंने संसद में कहा था वही आज कहूँगा कि नोटबंदी होने के कारण लोगों की मुश्किलें बढ़ी है। यह कारोबारियों पर टैक्स टेररिज्म की तरह लागू  हुआ है उन्होने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण भारत की अर्थव्यावस्था को दोहरा झटका लगा है इसकी वजह से छोटे कारोबारी की कमर टूट गई है। 

मनमोहन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री को यह स्वीकार करना चाहिए कि नोटबंदी का फैसला एक बहुत बड़ी गलती थी और उन्हें अपनी गलती मान कर अर्थव्यावस्था को सुधारने का काम करना चाहिए। इसके साथ हि उन्होने कहा कि, नोटबंदी का सीधा असर नौकरियों पर पड़ा है। हमारे देश के तीन चौथाई गैर कृषि रोजगार छोटे और मझोले उद्यमों के क्षेत्र में हैं नोटबंदी से इस क्षेत्र को अधिक नुकसान हुआ है इसलिए अब नौकरिया नहीं मिल रहीं है। 

साथ हि मनमोहन सिंह ने कहा कि, 8 नबंवर को नोटबंदी की पहली सालगिरह है इस मौके पर पुरे देश में विपक्ष कालाधन दिवस मनाएगा और सरकार के इस फैसले का विरोध करेगा। 


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL