VT Update
विन्ध्य में उद्योगों को लगेंगे पंख , मर्जी के मुताबिक उद्योगपतियों को मिलेगी जमीन , लैंड बैंक और लैंड पूल स्कीम से विन्ध्य में विकसित होगा उद्योग खोले गए लबालब बाणसागर के 10 गेट , रीवा, सतना, सीढ़ी, सिंगरौली, और शहडोल में अलर्ट घोषित आर्थिक मंदी के खिलाफ कांग्रेस मध्यप्रदेश समेत पुरे देश में छेड़ेगी आन्दोलन , दिल्ली में हुई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में सोनिया गाँधी ने दी जानकारी धुंधली होने लगी है विक्रम लैंडर से संपर्क की उम्मीद, लैंडर को नुक्सान पहुचने की आशंका बढ़ी यौन उत्पीड़न मामले में एसआईटी ने भाजपा नेता चिन्मयानंद से 7 घंटे की पूछताछ, चिन्मयानंद के आवास पर उनके बेडरूम की गई तलाशी
Saturday 3rd of August 2019 | मध्यप्रदेश की सियासत में नहीं थम रहा बवाल

सारंग का दावा- सारे विधायक हैं पाले में,  बोली कांग्रेस - बैठक करते रहिए गायब होते रहेंगे विधायक


मध्यप्रदेश की राजनीति में उचा उबाल अभी तक सामान्य नहीं हो पाया है। प्रदेश में सरकार और विपक्ष लगातार एक-दूसरे पर हॅार्स ट्रेंडिंग का आरोप लगा रहे है और एक दल के विधायक दूसरे दल के विधायकों के संपर्क में होने का दावा करते फिर रहे है। इसी बीच प्रदेश के पूर्व मंत्री विश्वास सारंग ने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि कांग्रेस के मंत्री जमीन पर नहीं हैं, और  कांग्रेस सत्ता के लोभ में मदमस्त हो गई है। मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी और विधायक शरद कोल के बैठक में उपस्थित न होने पर कहा कि दोनों विधायक हमारे अपने हैं कोई कहीं नहीं गया और न जाएगा।

         बीजेपी विधायक विश्वास सारंग ने मंत्री जीतू पटवारी के बयान दो दांत तोड़े है, फिर पूरी बत्तीसी तोड़ देंगे पर कहा कि जीतू पटवारी का बयान बेहद आपत्तिजनक  है। जीतू  सत्ता के नशे में मदमस्त है, वह सब भूल गए है। कांग्रेस के मंत्री जमीन पर नहीं है। सारंग ने आगे कहा कि अल्पमत की यह सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी। यह सरकार अपने आप गिर जाएगी। वहीं,  प्रदेश की कांग्रेस सरकार को कोसते हुए जमकर आरोप मढ़ते हुए कहा कि इस सरकार पर किसी वर्ग को कोई विश्वास नहीं है। सारंग ने सरकार की योजना आपकी सरकार आपके द्वार को दिखावा बताया है।इस दौरान उन्होंने अनुपस्थित विधायकों के सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि बीजेपी की सदस्यता अभियान की बैठक में जो विधायक नहीं आए थे उन्होंने पहले ही सूचना दे दी थी। ये कोई बड़ी बात नहीं है। नारायण त्रिपाठी और शरद कोल के नहीं पहुंचने पर उन्होंने कहा है कि दोनों विधायक बीजेपी के साथ हैं। दोनों विधायक हमारे अपने है कोई कहीं नहीं गया और न जाएगा, यह लफ्फाजी की सरकार है। अल्पमत की यह सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी।

कांग्रेस ने भी दिया जवाब- शिवराज सरकार में मंत्री रहे विधायक विश्वास सारंग के बयान पर पलटवार करते हुए कमलनाथ सरकार के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने पलटवार करते हुए कहा कि सारंग को धरातल पर रहकर कांग्रेस सरकार के कार्य देखने की नसीहत दी। पीसी शर्मा ने कहा बीजेपी बैठक करती रह जाएगी और विधायक गायब हो जाएंगे। दोनों विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल तो आ ही चुके है। बीजेपी बैठक ही इसलिए कर रही कि कहीं और तो नहीं कम हो गए। 


मोदी सरकार के समर्थन में आए कई कांग्रेसी दिग्गज, नाराज कांग्रेस ने बुलाई बैठ

प्रदेश की सियासत में सक्रिय होती उमा भारती, सियासी गलियारे में चर्चाओं को बा


 VT PADTAL