VT Update
वायरल ऑडियो कांड में पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल को क्लीन चीट, जिला भाजपा मंत्री सत्यमणि पांडे प्राथमिक सदस्यता से किए गए निलंबित, अनुशासनहीनता के लगे आरोप, महिला मोर्चा ने खोला मोर्चा। कॉलेज लेवल काउंसलिंग में रीवा जिले के साढे 4000 सीटों को भरने की चुनौती, 19 को यूजी तो 21 को पीजी की जारी होगी अंतिम सूची। मध्य प्रदेश की जेल में बंद कैदी अब नई ड्रेस में आएंगे नजर, सिर से टोपी होगी गायब, प्रदेश की जेलों में नहीं चलेंगे अंग्रेजों के जमाने के नियम। कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने उमा भारती पर कसा तंज, कहा अगले विधानसभा सत्र में हमारे होंगे भाजपा के 7-8 विधायक। नंगे पैर 11 सेकंड में 100 मीटर दौड़ा मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले का रामेश्वर गुर्जर, खेल मंत्री रिजिजु बोले एथेलेटिक अकादमी में करेंगे ट्रेनिंग का इंतजाम, मध्य प्रदेश के खेल मंत्री जीतू पटवारी ने धावक से की मुलाकात।
Sunday 4th of August 2019 | खंडवा का युवक पाकिस्तान में गिरफ्तार

पाकिस्तान में पकड़ाए भारतीय युवक की हुई पहचान, स्वदेश ले आने की तैयारी हुई तेज


पाकिस्तान पुलिस ने बीते बुधवार को जिस भारतीय युवक को जासूस समझकर गिरफ्तार किया था। उसकी पहचान हो चुकी है। उक्त युवक की पहचान मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के नर्मदानगर में रहने वाले एक भील परिवार से संबंध रखने वाले राजू लक्ष्मण भील 40 वर्ष के रूप में सामने आई है। पहचान होने के बाद पुलिस ने राजू को वापस भारत लाने की तैयारी शुरु कर दी है। पुलिस मुख्यालय ने अपनी रिपोर्ट गृह मंत्रालय और खुफिया एजेंसियों को सौंप दी है। सूचना है कि जल्द ही राजू को स्वदेश लाने के लिए आगे की कार्रवाई की जाएगी।

      दरअसल, बीते 29 जुलाई को पाकिस्तान पुलिस ने डेरा गाजी खान जिले के राखी गज इलाके से  मध्य प्रदेश के एक युवक को गिरफ्तार किया था। इस पर एमपी इंटेलिजेंस ने युवक की पहचान करने के लिए इंदौर और खंडवा में संभावित स्थानों पर पूछताछ शुरू की। जिसमें युवक को शनिवार की बीती रात इंटेलिजेंस ने युवक की पहचान कर ली। राजू के छोटे भाई दिलीप का कहना है कि शनिवार को उसके घर खुफिया पुलिस के कुछ लोग फोटो लेकर आए थे, जिससे उसकी पहचान राजू के रूप में की गई है।  बताया जा रहा है कि राजू की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। राजू के परिवार में पिता लक्ष्मण, मां बसंता, भाई दिलीप और बहन ममता है। राजू की शादी राजस्थान में हुई है। राजू साल 2018 की गर्मियों में आखिरी बार गांव में देखा गया था। राजू 5वीं कक्षा तक पढ़ा है और उसकी मानसिक स्थिति साल 2005 से यानी शादी के बाद खराब हुई है। लोगों का कहना है कि पत्नी के घर से चले जाने के बाद से राजू घर से 1 से 2 महीनों तक बाहर ही रहता था। राजू पिछले 6-7 महीने से घर नहीं आया है। हालांकि राजू को ओंकरेश्वर के आसपास साधू संतों के साथ घूमता देखा गया था, वह गांजा और चिलम पीता है। इसके बाद से उसकी कोई खोज खबर नहीं मिल पाई है।

        जानकारी के मुताबिक 15 साल पहले ओंकारेश्वर बांध के कारण राजू का गांव डूब गया था, तभी से पूरा परिवार इंधावड़ी इलाके में आकर रहने लगा। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, राजू ने इंधावड़ी जिला खंडवा का पता बताया है। फिलहाल पहचान होने के बाद पुलिस मुख्यालय ने मामले की पूरी जानकारी गृह मंत्रालय और खुफिया एजेंसियों को भेज दी है। अब देखना है कि राजू को कब तक स्वदेश वापस ले आया जाता है।


‘भारत रत्न’ से नवाज़े जाएँगे भूपेन हजारिका, प्रणब मुखर्जी और नानाजी देशमुख

बीजेपी बोली- स्वर्णिम पल लिखा गया गौरवशाली इतिहास, भड़के दिग्गी ने कहा- देश मे


 VT PADTAL