VT Update
वायरल ऑडियो कांड में पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल को क्लीन चीट, जिला भाजपा मंत्री सत्यमणि पांडे प्राथमिक सदस्यता से किए गए निलंबित, अनुशासनहीनता के लगे आरोप, महिला मोर्चा ने खोला मोर्चा। कॉलेज लेवल काउंसलिंग में रीवा जिले के साढे 4000 सीटों को भरने की चुनौती, 19 को यूजी तो 21 को पीजी की जारी होगी अंतिम सूची। मध्य प्रदेश की जेल में बंद कैदी अब नई ड्रेस में आएंगे नजर, सिर से टोपी होगी गायब, प्रदेश की जेलों में नहीं चलेंगे अंग्रेजों के जमाने के नियम। कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने उमा भारती पर कसा तंज, कहा अगले विधानसभा सत्र में हमारे होंगे भाजपा के 7-8 विधायक। नंगे पैर 11 सेकंड में 100 मीटर दौड़ा मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले का रामेश्वर गुर्जर, खेल मंत्री रिजिजु बोले एथेलेटिक अकादमी में करेंगे ट्रेनिंग का इंतजाम, मध्य प्रदेश के खेल मंत्री जीतू पटवारी ने धावक से की मुलाकात।
Monday 5th of August 2019 | विधानसभा में हर सवाल पर मची रार

सत्ता के नशे में चूर है बीजेपी, मोदी सरकार ने काट दिया भारत का सिर: आजाद


जम्मू.कश्मीर पर केंद्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले का कांग्रेस, राजद समेत कई विरोधी दलों ने असमर्थन कर दिया है। जिसमें जम्मू.कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आज का दिन भारतीय इतिहास का काला दिन है। बीजेपी की सरकार ने सत्ता के नशे में और वोट हासिल करने के लिए एक झटके में अनुच्छेद 370 के साथ 35 अ को खत्म कर दिया है। इसके साथ खिलवाड़ कर सरकार ने बहुत बड़ी गद्दारी की है। संसद के बाहर बोलते हुए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि पिछले 70 वर्षों में कश्मीर में लाखों लोगों ने कुर्बानियां दी है। जब भी राज्य में आतंकवाद का शोर रहा तब उन्होंने लड़ाई लड़ी। कश्मीर की आवाम और मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों ने आतंकवाद का भी मुकाबला किया। आतंकवाद का मुकाबला सुरक्षाबलों ने भी किया।

होश में नहीं है बीजेपी: सरकार द्वारा सिफारिश लाने के बाद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी की सरकार ने सत्ता के नशे में वोट हासिल करने के लिए एक पूर्ण राज्य को जिसके पास अपनी संस्कृति है, सभ्यता है, भगौलिक क्षेत्र के हिसाब से अलग है। इतिहास के तौर पर अलग है, लद्दाख जो मुस्लिम और बौद्ध बाहुल्य क्षेत्र है और कश्मीर जिसमें मुस्लिम, पंडित और सिख रहते है उसे अलग कर दिया। जम्मू में जहां 60 फीसदी हिंदू आबादी है, 40 फीसदी मुस्लिम आबादी है, सिख आबादी है इन्हें एक सूत्र में पिरोकर अगर किसी ने रखा तो वह अनुच्छेद 370 के कारण।

काला अध्याय, बर्बाद हो गया राज्यः कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटाए जाने के सरकार के निर्णय पर आपत्ति दर्ज कराते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अनुच्छेद 370 में तीनों क्षेत्रों में अलग उपबंध था। लेकिन बीजेपी ने एक झटके में तीन चार चीजों की खत्म कर दिया है। इसे हिंदुस्तान के इतिहास में काले अध्याय के तौर पर लिखा जाएगा। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अनुच्छेद 370 के साथ.साथ अनुच्छेद 35 ए भी खत्म कर दिया जैसा कि इतना काफी नहीं था राज्य को बर्बाद करने के लिए, राज्य को विभाजित कर दिया। लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया। जम्मू और कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया। जम्मू कश्मीर में राज्यपाल नहीं होगा, अब उप.राज्यपाल होगा। यह कभी सपने में नहीं सोचा गया था। एनडीए सरकार ने जम्मू और कश्मीर का अस्तित्व ही खत्म कर दिया है। गुलाम नबी आजाद ने चेतावनी देते हुए कहा कि इन्होंने राज्य को विभाजित तो कर दिया है लेकिन इन्हें नहीं पता कि भारत के सामने एक तरफ से चीन के साथ लंबा बॉर्डर है। पाकिस्तान के साथ लंबा चौड़ा बॉर्डर है पीओके के साथ जम्मू.कश्मीर की सीमा है। भारत इनसे कैसे निपटेगा।

लोकतंत्र के साथ मजाक : सरकार के इस कदम पर नाराजगी जताते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा  लोकतंत्र के साथ खिलावड़ किया गया है। राज्य की एकता और इंटिग्रिटी के साथ मजाक किया गया है। यह देश के साथ बहुत बड़ी गद्दारी है जब कभी पाकिस्तान और चीन ने हमला किया है, कश्मीर के लोग हमेशा लड़ाई में आगे रहे है। 1947 में जब हमला हुआ था, फौज के आने से पहले कश्मीर के नौजवानों, औरतों और बच्चों ने लड़ाई लड़ी। मजदूरों और नेताओं ने लाठियों के साथ घुसपैठियों को रोका था। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि किसी बॉर्डर स्टेट में केवल फौज के साथ दुश्मन को नहीं रोक सकते। वहां के स्थानीय लोगों का भी समर्थन जरूरी है। लोगों के राजनीतिक स्तर को आर्थिक स्तर पर खत्म कर दिया गया है। देश का सिर कश्मीर था जिसे भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने काट लिया है।

कट गया भारत का सिर : गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सरकार के एक इस निर्णय ने आज भारत को बिना सिर का बना दिया है। देश को कमजोर बनाते हुए लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ किया गया है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक जो भी धर्मनिरपेक्ष पार्टियां हैं, उन्हें कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा होना चाहिए। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कश्मीर को टुकड़ों में विभाजित कर दिया गया है। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि राज्यसभा में विपक्षी पार्टियों के नेताओं की बाइट नहीं प्रसारित की जाती है।


‘भारत रत्न’ से नवाज़े जाएँगे भूपेन हजारिका, प्रणब मुखर्जी और नानाजी देशमुख

बीजेपी बोली- स्वर्णिम पल लिखा गया गौरवशाली इतिहास, भड़के दिग्गी ने कहा- देश मे


 VT PADTAL