VT Update
रीवा- सतना रेल लाइन में पहली बार दौड़ा विद्युत इंजन, दिसंबर के आखरी तक ट्रेन दौड़ाने के तैयारी सहकारी बैंक के 245 कर्मचारी हड़ताल पर डटे, आयुक्त का फरमान , हड़तालियों को तीन माह का वेतन देकर करो बाहरआंदोलनकारियोंने रैली निकाल , सौपा ज्ञापन प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों व पेंशनर्स को प्राइवेट अस्पतालों में मिलेगा कैशलेस उपचार, 1 अप्रैल से लागू हो सकती है योजना भाजपा की 33 जिला अध्यक्षों की हुई घोषणा दिग्गज नेताओं के कारण अटके बड़े जिलों के नाम नेताओं ने दिल्ली जाकर अपने चहेतों का सूची में जुड़वा लिया नाम प्रदेश के माफिया राज खत्म करेगी कमलनाथ सरकार हनी ट्रैप के बाद एक्शन में मध्य प्रदेश सरकार नहीं चलेगा राजनीतिक स्वरूप शिवराज ने किया समर्थन
Monday 5th of August 2019 | भारत के निर्णय से पाक नाराज

सरकार के फैसले पर पाक ने जताया विरोध, कहा जाएंगे अंतरराष्ट्रीय कोर्ट


जम्मू.कश्मीर को लेकर केंद्र की मोदी सरकार के ऐलान से पाकिस्तान भी हैरान है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय का कहना है कि भारत का फैसला हमें स्वीकार्य नहीं है। भारत की कोशिश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संकल्पों और कश्मीरी लोगों की इच्छाओं के खिलाफ है। पाकिस्तान ने कहा कि पाकिस्तान सरकार, भारत सरकार के इस फैसले का विरोध अतंरराष्ट्रीय स्तर पर करेगा। भारत के इस कदम के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कानूनों का सहारा लेंगे। मोदी सरकार द्वारा कश्मीर पर लिए गए निर्णय पर पाकिस्तान ने नाराजगी जाहिर की है। और कहा है कि भारत सरकार का यह फैसला पाकिस्तान को मंजूर नहीं है। पाक ने कहा कि कश्मीर का मुद्दा एक अंतराष्ट्रीय विवाद है। भारत सरकार कश्मीर पर कोई एक पक्षीय फैसला नहीं कर सकती है। न ही इससे विवादित कश्मीर का मुद्दा शांत होगा। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में यह मुद्दा उठा है, यह फैसला न तो पाकिस्तान को मंजूर है, न ही जम्मू और कश्मीर को लोगों को। इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि भारत अगर अनुच्छेद 35 ए से छेड़छाड़ करता है तो कश्मीर की समस्या बढ़ेंगी।

           आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर का पुनर्गठन विधेयक 2019 राज्य सभा में पेश किया। इसके तहत जम्मू.कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया है। जम्मू.कश्मीर का पहला हिस्सा जम्मू.कश्मीर ही होगा ये दिल्ली की तरह एक केंद्र शासित प्रदेश होगा। यहां पर एक विधानसभा होगी। अबतक जम्मू.कश्मीर के साथ रहने वाला लद्दाख अब अलग केंद्र शासित प्रदेश हो गया है। लद्दाख में विधानसभा नहीं रहेगी।


Tik Tok ने मार्केट में लांच किया अपना  स्मार्टफ़ोन

सरकार के फैसले पर पाक ने जताया विरोध, कहा जाएंगे अंतरराष्ट्रीय कोर्ट


 VT PADTAL