VT Update
रीवा के विकास कार्यों में लगा ग्रहण, 250 करोड़ के प्रोजेक्ट अटके, 1 साल की प्रदेश सरकार की मंशा पर उठे सवाल रीवा में कोहरे की चादर 15 डिग्री सेल्सियस तापमान, दिनभर छाई रही बदली मध्य प्रदेश सरकार के अभियान ‘शुद्ध के लिए युद्ध’ में दौडा भोपाल, मिलावट के खिलाफ शुरू हुआ अभियान 20,000 से ज्यादा लोग अभियान में रहे शामिल पीएनबी ने छिपाया अपना 2617 करोड़ रुपए का डूबा हुआ कर्ज आरबीआई की जांच में खुलासा 2018-19 में छुपाया था एनपीए 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित, पूरी दुनिया एक साथ लेगी चाय की चुस्की, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकारा भारत का 4 साल पहले का प्रस्ताव
Saturday 10th of August 2019 | कलेक्टर व पुलिस अधिकारीयों की फर्जी आईडी बनाकर करते थे लोगों से ठगी

फेक आईडी बनाकर ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार, सतना पुलिस ने झारखंड से आरोपियों को पकड़ा


सतना पुलिस ने अन्तर्राजिय साइबर ठग गिरोह को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है। जो पुलिस अधिकारी व कलेक्टर के नाम पर फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लोगों को ठगी का शिकार बनाते थे। ताजा घटना क्रम जिसमें हाल ही के दिनों में सतना कलेक्टर सतेंद्र सिंह के नाम पर फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर उनके एक साथी से 20 हजार रुपये खाते में डलवा लिया था। मामले के संज्ञान में आने के बाद सतना पुलिस अधिकारी हरकत में आई और चौतरफा जाल बिछाकर हजारों किलोमीटर दूर बैठे ठग गिरोह के मास्टर माइंड सहित 6 सदस्यों को धर दबोचा है। जिनके पास से मोबाइल, फेक अकाउंट और भारी मात्रा में फर्जी खाते व चेक बरामद किए है। पकड़े गए सभी आरोपी झारखंड के धनबाद व जमशेदपुर जिले के रहने वाले है। पूछताछ में पता चला कि उक्त सभी ठग अबतक 25 घटनाओं को अंजाम दे चुके है । सतना पुलिस सभी को ट्रांजिस रिमांड पर लेकर सतना वापस लौटी है। बताया जा रहा कि उक्त सभी जालसाज कमीशन की लम्बी चेन बनाकर फर्जी फेस बुक अकाउंट बनाकर लोगों की म्यूचुअल फ्रेंड लिस्ट से मैसेंजर के जरिये हाल चाल व बातचीत कर निजी जरूरत बताकर अपने खाते में पैसे जमा कर ठगी की घटना को अंजाम देते थे। उक्त सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस जालसाजी समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पूछताछ कर रही है।


सतना में फ्लॉप रहा “सीटी बजाओ सांसद जगाओ” हल्ला बोल

सतना के स्वास्थ्य केंद्र में हुई थी महिलओं की नसबंदी


 VT PADTAL