VT Update
जल्द होंगे पंचायत चुनाव 27 को होगा पंच सरपंच का आरक्षण देर रात किया गया आरक्षण प्रक्रिया का प्रारंभिक प्रकाशन जल्द होंगे पंचायत चुनाव 27 को होगा पंच सरपंच का आरक्षण देर रात किया गया आरक्षण प्रक्रिया का प्रारंभिक प्रकाशन दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की वार्षिक बैठक आज , मुख्यमंत्री कमलनाथ करेगे शीर्ष उद्योगपतियों से वन टू वन मुलाकात, मध्यप्रदेश में निवेश की संभावनाओं पर करेगे चर्चा सोसायटियों में वंचितों को मिलेगा प्लाट या मुआवजा, कलेक्टर समिति पदाधिकारियों से कर रहे वन टू वन, जनसुनवाई में आए प्रकरणों का हो रहा निराकरण साध्वी प्रज्ञा को धमकी भरा पत्र लिखने वाले रहमान ने एमपीएस की पूछताछ में किया खुलासा अपनी मां और भाई को फसाने के लिए सांसद प्रज्ञा को लिफाफे में भरकर भेजा था पाउडर, भाई और माँ के कारण आरोपी को 18 दिन रहना पड़ा था जेल में
Saturday 10th of August 2019 | पूर्व मंत्री पवैया ने सिंधिया पर कसा तंज

सिंधिया के बदले सूर पर पूर्व मंत्री पवैया का हमला, सवाल दागते हुए दिया निमंत्रण


पूर्व केंद्रीयमंत्री व गुना से सांसद रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कश्मीर मामले पर मोदी सरकार को समर्थन देने के बाद सिंधिया के धुर विरोधी प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री जयभान सिंह पवैया ने तंज कसते हुए बीजेपी में आने का न्यौता दिया है। उन्होंने कहा कि सिंधिया में दम है और उनकी देशभक्ति जाग रही है तो कांग्रेस को ठोकर मार दें और मैदान में आ जाएं हम उनका स्वागत करेंगे।

        दरअसल, धारा 370 व 35 ए को हटाने के बाद से बयानबाजियों का दौर चरम पर है। वहीं, इस मसले को लेकर कांग्रेस दो धड़ों में बंट चुकी है। ज्योतिरादित्य  सिंधिया जैसे कुछ बड़े नेता इसके समर्थन में केंद्र सरकार के फैसलों को जायज ठहा रहे हैं। तो राहुल गांधी और गुलाम नबी आजाद जैसे अधिकांश नेता इसके विरोध में है। सिंधिया ने इसका समर्थन करते हुए ट्वीट भी किया है और इसी के बाद से पार्टी में भूचाल आया हुआ है। सिंधिया के ट्वीट पर पवैया ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के केंद्र सरकार के समर्थन के ट्वीट पर लोग हैरान है। सांसद रहते और सांसद का चुनाव हारने के बाद सिंधिया के बयानों में भारी फर्क आया है। जो आदमी राहुल के साथ संसद में टुकड़े-टुकड़े गैंग का समर्थन करता था जेएनयू में कश्मीरी अलगाववादियों के समर्थन में नारेबाजी पर कहता हो कि नारों से देशद्रोह नहीं होता वो अचानक 370 पर मोदी सरकार के साथ है यह हैरान करने वाला है।

        पवैया ने कहा कि सिंधिया जनता के सामने साफ करें कि क्या आप अब भी कांग्रेस में ही हैं। अगर आप कांग्रेस में ही हैं तो कांग्रेस ने 370 हटाने का विरोध क्यों किया। आपकी पार्टी का स्टैंड क्य़ा है। पूर्व मंत्री पवैया ने आरोप लगाते हुए कहा कि सिंधिया सत्ता की मलाई खाना चाहते है, उन्हें मध्यप्रदेश में अभी कई जमीनों के पट्टे कराने है तो कई जमीनों की जांच की फाइल बंद करानी है। इसलिए मध्य प्रदेश में कांग्रेसी बने रहना चाहते है, तो वहीं मोदी की सुनामी से बचने और अपना भविष्य सुरक्षित रखने के लिए सिंधिया मोदी जी के सुर में सुर मिलाते है। पवैया ने कहा कि इतिहास बताता है जब कांग्रेस दुर्गति को प्राप्त हो रही थी तो कांग्रेस का मुखिया बनने का ख्वाब इनके परिवार के पूर्वज ने देखा था और विकास कांग्रेस बनाकर कांग्रेस को पीठ दिखाई थी। उन्होंने कहा कि ये लोग राजनीति को दुकानदारी समझने वाले लोग हैं।


चिदांबरम के विरोध में आए कमलनाथ के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा,  मोदी सरकार का कि

सिंधिया के बदले सूर पर पूर्व मंत्री पवैया का हमला, सवाल दागते हुए दिया निमंत


 VT PADTAL