VT Update
रीवा के विकास कार्यों में लगा ग्रहण, 250 करोड़ के प्रोजेक्ट अटके, 1 साल की प्रदेश सरकार की मंशा पर उठे सवाल रीवा में कोहरे की चादर 15 डिग्री सेल्सियस तापमान, दिनभर छाई रही बदली मध्य प्रदेश सरकार के अभियान ‘शुद्ध के लिए युद्ध’ में दौडा भोपाल, मिलावट के खिलाफ शुरू हुआ अभियान 20,000 से ज्यादा लोग अभियान में रहे शामिल पीएनबी ने छिपाया अपना 2617 करोड़ रुपए का डूबा हुआ कर्ज आरबीआई की जांच में खुलासा 2018-19 में छुपाया था एनपीए 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित, पूरी दुनिया एक साथ लेगी चाय की चुस्की, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकारा भारत का 4 साल पहले का प्रस्ताव
Sunday 11th of August 2019 | बीरसिंहपुर पाली के आदिवासी कार्यक्रम में दिखी अव्यवस्था

उमरिया जिले के बिरसिंहपुर पाली में आयोजित हुआ आदिवासी दिवस पर कार्यक्रम, दिखी अनियमितता


उमरिया जिले के बिरसिंहपुर पाली में आदिवासी दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में भारी अव्यवस्थाएं दिखाई दी। वहीं, इस कार्यक्रम से स्थानीय जनप्रतिनिधि नदारद दिखाई दिए। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा लाइव प्रसारण के माध्यम से किया गया। जहां उन्होंने झाबुआ में भव्य कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को संबोधित किया। विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर एक ओर जहां भव्य आयोजन किया जा रहा है। तो वहीं उमरिया जिले के जनपद पंचायत पाली में यह कार्यक्रम अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं द्वारा मनमोहक प्रस्तुतियां दीं गई, आदिवासी समाज की नृत्य कलाओं का प्रदर्शन किया। व अतिथियों के द्वारा आदिवासी समाज के उत्थान के बारे में बताया व उनकी संस्कृति पर प्रकाश डाला गया। इन सब के बीच कार्यक्रम अनियमितता भी नज़र आई। जिसमें लोगों के बैठने, पीने के लिए पानी की कोई व्यवस्था नहीं थी। यहां तक की भाजपा की क्षेत्रीय विधायक मीना सिंह पूर्ण कार्यक्रम से नदारद रहीं। वहीं, नगर पालिका भाजपा से अध्यक्ष उषा कोल भी गैरमौजूद रही। इस संबंध में जनप्रतिनिधियों के करीबियों का कहना था की कार्यक्रम के बारे में उन्हें कोई सूचना न होने की वजह से जनप्रतिनिधि शामिल नहीं हो सके। अव्यवस्थाओं का आलम यह था कि उपस्थित भीड़ को बैठाने के लिए कुर्सीयां बिछाने का जिम्मा सौंप दिया गया था। इन सब सवालों पर जिम्मेदारों ने मौन साध लिया है।


पानी निकासी न होने की वजह से दुकानदारों को हो रही समस्या

ग्रामीण महिलओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बनाये गए है सिलाई केंद्र


 VT PADTAL