VT Update
वायरल ऑडियो कांड में पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल को क्लीन चीट, जिला भाजपा मंत्री सत्यमणि पांडे प्राथमिक सदस्यता से किए गए निलंबित, अनुशासनहीनता के लगे आरोप, महिला मोर्चा ने खोला मोर्चा। कॉलेज लेवल काउंसलिंग में रीवा जिले के साढे 4000 सीटों को भरने की चुनौती, 19 को यूजी तो 21 को पीजी की जारी होगी अंतिम सूची। मध्य प्रदेश की जेल में बंद कैदी अब नई ड्रेस में आएंगे नजर, सिर से टोपी होगी गायब, प्रदेश की जेलों में नहीं चलेंगे अंग्रेजों के जमाने के नियम। कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने उमा भारती पर कसा तंज, कहा अगले विधानसभा सत्र में हमारे होंगे भाजपा के 7-8 विधायक। नंगे पैर 11 सेकंड में 100 मीटर दौड़ा मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले का रामेश्वर गुर्जर, खेल मंत्री रिजिजु बोले एथेलेटिक अकादमी में करेंगे ट्रेनिंग का इंतजाम, मध्य प्रदेश के खेल मंत्री जीतू पटवारी ने धावक से की मुलाकात।
Sunday 11th of August 2019 | बीरसिंहपुर पाली के आदिवासी कार्यक्रम में दिखी अव्यवस्था

उमरिया जिले के बिरसिंहपुर पाली में आयोजित हुआ आदिवासी दिवस पर कार्यक्रम, दिखी अनियमितता


उमरिया जिले के बिरसिंहपुर पाली में आदिवासी दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में भारी अव्यवस्थाएं दिखाई दी। वहीं, इस कार्यक्रम से स्थानीय जनप्रतिनिधि नदारद दिखाई दिए। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा लाइव प्रसारण के माध्यम से किया गया। जहां उन्होंने झाबुआ में भव्य कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को संबोधित किया। विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर एक ओर जहां भव्य आयोजन किया जा रहा है। तो वहीं उमरिया जिले के जनपद पंचायत पाली में यह कार्यक्रम अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं द्वारा मनमोहक प्रस्तुतियां दीं गई, आदिवासी समाज की नृत्य कलाओं का प्रदर्शन किया। व अतिथियों के द्वारा आदिवासी समाज के उत्थान के बारे में बताया व उनकी संस्कृति पर प्रकाश डाला गया। इन सब के बीच कार्यक्रम अनियमितता भी नज़र आई। जिसमें लोगों के बैठने, पीने के लिए पानी की कोई व्यवस्था नहीं थी। यहां तक की भाजपा की क्षेत्रीय विधायक मीना सिंह पूर्ण कार्यक्रम से नदारद रहीं। वहीं, नगर पालिका भाजपा से अध्यक्ष उषा कोल भी गैरमौजूद रही। इस संबंध में जनप्रतिनिधियों के करीबियों का कहना था की कार्यक्रम के बारे में उन्हें कोई सूचना न होने की वजह से जनप्रतिनिधि शामिल नहीं हो सके। अव्यवस्थाओं का आलम यह था कि उपस्थित भीड़ को बैठाने के लिए कुर्सीयां बिछाने का जिम्मा सौंप दिया गया था। इन सब सवालों पर जिम्मेदारों ने मौन साध लिया है।


उमरिया जिले के बिरसिंहपुर पाली में आयोजित हुआ आदिवासी दिवस पर कार्यक्रम, दि

उमरिया में मजदूर संघ ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के


 VT PADTAL