VT Update
सतना के बदमाशों ने की रीवा में 11 वारदात, चेन स्नाचिंग जैसी तमाम अपराध करने वाले अपराधी हुए गिरफ्तार, पुलिस न ली राहत की सांस बाल दिवस पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने साधा कांग्रेस पर निशाना कहा बच्चों की योजनाएं शुरू करें सरकार वरना आंदोलन करने के लिए होंगे बाध्य ऑनलाइन परीक्षा के बहाने पीएससी ने दोगुने कर दिए पीएससी का शुल्क 310 पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा होगी 12 जनवरी को, आयोग ने विज्ञापन जारी कर दी जानकारी नवंबर 2020 में चंद्रयान भेजने की तैयारी में हुई गलतियों पर एक रिपोर्ट, अगले साल नवंबर में चंद्र की चंद्रमा पर हो सकेगी लैंडिंग हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के मुख्यमंत्री बनने के बाद मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार 6 कैबिनेट मंत्रियों ने ली शपथ हर वर्ग के लोगों को बनाया गया मंत्री.
Tuesday 13th of August 2019 | धारा 370 पर उमा और दिग्गी आमने-सामने

दिग्गी पर उमा का पलटवार, भोपाल से फिसलने वाले कश्मीर की चिंता न करें


केंद्र की मोदी सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद से बयानबाजी और आरोप प्रत्यारोप का दौर तेज है। जिसमें मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्रियों के हमले ने और जोर पकड़ लिया है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जवाहर लाल नेहरू को अपराधी बताने वाले बयान के बाद पूर्व सीएम उमा भारती ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पर तीखा पलटवार किया है। उमा ने कहा दिग्विजय के हाथ से भोपाल फिसल गया है, वे कश्मीर की चिंता नहीं करें। उन्होंने कहा कि कुछ नहीं फिसलेगा।

     आपको बता दें कि बीते रविवार को दिग्विजय सिंह ने कश्मीर के हालात पर मोदी सरकार पर निशाना साधा था। बयान देते हुए उन्होंने कहा कि कश्मीर समस्या का समाधान जल्द होना चाहिए, वरना वो हमारे हाथ से निकल जाएगा। जिसके बाद सोमवार को टीकमगढ़ के दौरे पर पहुंची मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री में मोदी पार्ट वन में केंद्रीय मंत्री रही उमा भारती ने दिग्गी पर निशाना साधते हुए पलटवार किया। उन्होंने कहा कि जो लोग कश्मीर फिसलने की बात कह रहे उन्हें याद दिलाना चाहुंगी कि उनके हाथ से तो भोपाल फिसल गया। उन्हें कश्मीर की चिंता नहीं करनी चाहिए। कुछ नहीं फिसलेगा। एक ओर धारा 370 हटाए जाने के बाद से कांग्रेस सरकार के इस निर्णय का लगातार विरोध कर रही है। वहीं, भाजपा के दिग्गज इस मुद्दे को पूरी तरह से भुना रहे है। इन सब के इतर कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत अन्य कांग्रेसी पार्टी लाइन से अलग मोदी सरकार के समर्थन में आ गए है। जिसके बाद से देश की सियासत में रार मची हुई है। वहीं, दोनों तरफ से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। वहीं, सरकार कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद से स्थितियों को सामान्स बता रही है। जबकि विपक्ष और अन्य कश्मीर की मूलभूत समस्याओं को मुद्दा बनाने में जुटे हुए है। अब देखना है कि क्या कुछ निकलकर इसमें सामने आता है।


शिवराज सरकार में आवंटित बंगलो की होगी होगी जाँच

सिंधिया पर फिर भरोसा जताया पार्टी ने, मिली बड़ी जिम्मेदारी


 VT PADTAL