VT Update
हर टोल नाके में ओवरलोडिंग से प्रतिमाह 6 करोड़ की अवैध वसूली, प्रतिदिन यूपी जा रही हजारों टन ओवरलोड गिट्टी बनी टोल संचालकों की कमाई का जरिया घरों में घुसी स्वच्छता सर्वे करने आई टीम व्यक्तिगत शौचालय देखा अपलोड की फोटो सर्वे करने आई टीम ने जांची निगम की हकीकत ओडीएफ पर भी निगरानी वनडे में भारत की 200वी जीत ऑस्ट्रेलिया से 2-1 से जीती सीरीज, रोहित शर्मा ने खेली शानदार शतकीय पारी भारत ने किया के-4 बैलेस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण, परमाणु क्षमता से लैस 35 किलोमीटर दूर तक करेगी मार मध्यप्रदेश में भू माफियाओं के नाम पर अफसरों ने हजारों आम आदमीओं को थमा दिए नोटिस,मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद प्रमुख सचिव ने संभाग के कमिश्नरों को दिए सख्त निर्देश आम आदमी को नही होनी चाहिए परेशानी
Wednesday 28th of August 2019 | फिर होगी व्यापमं घोटाले के पन्नों की तहकीकात

व्यापमं घोटाले की जाँच के लिए एसटीएफ की तीन टीमें हुईं गठित


मध्यप्रदेश के सबसे बड़े घोटाले व्यापमं घोटाले की फाइल एक बार फिर खुलने वाली है| व्यापमं घोटाले की लंबित शिकायतों की जांच के लिए एसटीएफ की तीन एसआईटी का गठन किया गया है। ये एसआईटी भोपाल, इंदौर और ग्वालियर के एसपी एसटीएफ के नेतृत्व में काम करेंगी। इन्हें कम से कम 60 शिकायतों की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। आपको बता दें कि एसटीएफ के पास ऐसी करीब 197 शिकायतें हैं, जिनकी जांच न तो एसटीएफ कर रही थी और न ही सीबीआई। हालांकि सीबीआई सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उन्हीं मामलों की जांच कर रही है, जो उसे सौंपे गए हैं। इस कारण व्यापमं की 197 शिकायतें कई सालों से फाइलों में धूल खा रही थीं।

मालवा क्षेत्र संबंधी शिकायतों की जांच एसपी एसटीएफ इंदौर पद्म विलोचन शुक्ला, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र की शिकायतों पर एसपी एसटीएफ ग्वालियर अमित सिंह, भोपाल एसटीएफ एसपी राजेश सिंह भदौरिया भोपाल, जबलपुर और अन्य क्षेत्रों की शिकायतों की करेंगे। एसआईटी ने अपने-अपने क्षेत्राधिकार के शिकायतकर्ताओं को बुलाना शुरू कर दिया है। शिकायतकर्ताओं के नाम-पतों पर नोटिस भेजे जा रहे हैं, ताकि उनसे सबूत इक्कठे किए जा सकें|


    सीएम ने कहा ओलावृष्टि मे किसानों के हुए नुकसान का किया जाएगा सर्वे  

सरकार का बड़ा एलान: SC-ST संशोधन विधेयक पर मुहर


 VT PADTAL