VT Update
विन्ध्य में उद्योगों को लगेंगे पंख , मर्जी के मुताबिक उद्योगपतियों को मिलेगी जमीन , लैंड बैंक और लैंड पूल स्कीम से विन्ध्य में विकसित होगा उद्योग खोले गए लबालब बाणसागर के 10 गेट , रीवा, सतना, सीढ़ी, सिंगरौली, और शहडोल में अलर्ट घोषित आर्थिक मंदी के खिलाफ कांग्रेस मध्यप्रदेश समेत पुरे देश में छेड़ेगी आन्दोलन , दिल्ली में हुई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में सोनिया गाँधी ने दी जानकारी धुंधली होने लगी है विक्रम लैंडर से संपर्क की उम्मीद, लैंडर को नुक्सान पहुचने की आशंका बढ़ी यौन उत्पीड़न मामले में एसआईटी ने भाजपा नेता चिन्मयानंद से 7 घंटे की पूछताछ, चिन्मयानंद के आवास पर उनके बेडरूम की गई तलाशी
Wednesday 4th of September 2019 | सो रही सरकार को जगाएगी बीजेपी

घंटानाद आंदोलन कर कमलनाथ को घेरेगी बीजेपी, आंदोलन की काट ढूंढने में जुटी कांग्रेस


नमस्कार वीटी अपडेट में आपका स्वागत है...! मध्यप्रदेश की सियासत में अपनों से घिरी प्रदेश की कमलनाथ सरकार अब विपक्ष की भूमिका निभा रही बीजेपी के निशाने पर आ गई है। बीजेपी ने सरकार के खिलाफ आंदोलन की तैयारी कर ली है। जिसे घंटानाद नाम दिया गया है। इस आंदोलन के तहत बीजेपी  जिला, तहसील मुख्यालय और कलेक्टर कार्यालय के सामने घंटा और घंटी बजाकर सरकार को जगाने के लिए आंदोलन करेगी। इसमें तमाम बड़े नेता, पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल होंगे। जो बिजली, कर्जमाफी, कानून व्यवस्था जैसे तमाम मुद्दों पर सरकार काे घेरेंगे। इस शंखनाद ने सरकार की नींद उड़ा दी है। कमलनाथ सरकार द्वारा इसका काट ढूंढा जा रहा है। पंद्रह वर्षों बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस पार्टी की सरकार को डर है कि बीजेपी मैदान में उतर कर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलती है तो आगामी दिनों में होने वाले चुनावों में बीजेपी को फायदा मिल सकता है।

       दरअसल, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने का ऐलान किया है। राकेश सिंह ने सरकार को नींद से जगाने घंटानाद आंदोलन का ऐलान किया। पार्टी का यह प्रदेशव्यापी आंदोलन स्व. जयप्रकाश नारायण के आंदोलन घंटानाद की तर्ज पर होगा, जिसमें कार्यकर्ता घंटा और ढोल.मंजीरे लेकर कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे। हर जिला मुख्यालय पर यह आंदोलन होगा।  इसे पार्टी ने मध्यप्रदेश बचाओ. कांग्रेस भगाओ स्लोगन दे दिया है। राकेश सिंह ने कहा कि बीजेपी आने वाले 11 सितंबर को पूरे प्रदेश में घंटानाद आंदोलन करेगी। जिसमें प्रदेश सरकार को उसके वादों को याद दिलाया जाएगा और जनता के हित में कार्य करने के लिए जगाया जाएगा। वहीं, कांग्रेस पार्टी बीजेपी के इस ऐलान के बाद से चिंतित है और इस आंदोलन का काट ढूढने की जुगत में लगी हुई है। अब देखना यह है कि मध्यप्रदेश की राजनीति में आने वाले दिनों में क्या कुछ अहम गठित होता है।


केंद्रीय मंत्री ने फिर दोहराया, गिरेगी कांग्रेस सरकार फिर शुरू होगी हमारी भ

मंत्री सिंघार के खिलाफ फूंका पूतला, दिग्गी के समर्थकों ने की नारेबाजी, विपक्


 VT PADTAL