VT Update
सतना के बदमाशों ने की रीवा में 11 वारदात, चेन स्नाचिंग जैसी तमाम अपराध करने वाले अपराधी हुए गिरफ्तार, पुलिस न ली राहत की सांस बाल दिवस पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने साधा कांग्रेस पर निशाना कहा बच्चों की योजनाएं शुरू करें सरकार वरना आंदोलन करने के लिए होंगे बाध्य ऑनलाइन परीक्षा के बहाने पीएससी ने दोगुने कर दिए पीएससी का शुल्क 310 पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा होगी 12 जनवरी को, आयोग ने विज्ञापन जारी कर दी जानकारी नवंबर 2020 में चंद्रयान भेजने की तैयारी में हुई गलतियों पर एक रिपोर्ट, अगले साल नवंबर में चंद्र की चंद्रमा पर हो सकेगी लैंडिंग हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के मुख्यमंत्री बनने के बाद मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार 6 कैबिनेट मंत्रियों ने ली शपथ हर वर्ग के लोगों को बनाया गया मंत्री.
Wednesday 4th of September 2019 | कांग्रेस में अंतर्कलह नहीं हो रहा कम

मंत्री सिंघार के खिलाफ फूंका पूतला, दिग्गी के समर्थकों ने की नारेबाजी, विपक्ष का भी हमला


मध्यप्रदेश की सियासत में पिछले कई दिनों से रार मचा हुआ है। वन मंत्री उमंग सिंघार का पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह पर लगातार हमला जारी है। जिसके विरोध में आज दिग्विजय सिंह के समर्थकों ने मंत्री सिंघार के सरकारी आवास पूतला फूंका है। साथ ही मंत्री के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। साथ ही सिंघार को पार्टी से बाहर करने की मांग भी की। इन सब विवादों के बीच बीते दिवस सिंघार ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी मुलाकात की। हालांकि इस मुलाकात में क्या बातचीत हुई यह सामने नहीं आ पाया है। वहीं, उन्होंने दिग्विजय सिंह के ऊपर किए गए सियासी हमले को सही ठहराते हुए अपने बयान पर कायम रहने की बात कही। आपको बता दें कि कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में सिंघार ने सिंधिया के खेमे के मंत्री है। जिन्होंने दिग्विजय सिंह पर हमला बोलते हुए कहा था कि दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से सरकार चला रहे है। इसके साथ ही उन्होंने दिग्गी को तस्कर बताते हुए निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि दिग्गी के लोग शराब बेचने का काम करते है। उनके लगातार हमले से प्रदेश की सियासत में हलचल तेज हो गई है। वहीं, बीजेपी भी कांग्रेस पार्टी की सरकार में मचे इस रार पर चटकारे ले रही है और उन्हीं के अंतर्कलह पर कांग्रेस और सरकार को घेर रही है। पूतला दहन कार्यक्रम को लेकर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सरकार को घेरना शुरू कर दिया। उन्होंने हमला करते हुए कहा कि आदिवासी मंत्री पर दिग्गी के समर्थकों ने अपशब्दों की बौछार कर हद्द कर दी है। उन्होंने कहा कि जब एक आदिवासी मंत्री असुरक्षित है तो सरकार प्रदेश के आदिवासियों को किस प्रकार सुरक्षा करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार आवाज को कुचलने का प्रयास कर रही है। अब देखना है कि अलग अलग धड़ों में बंटी कांग्रेस पार्टी में क्या कुछ नया निकलकर सामने आ पाता है। दिग्गी के धड़े को उम्मीद है कि पार्टी मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करेगी। अब देखना है यह है कि कांग्रेस प्रदेश में मचे इस हो हल्ला को शांत कराने के लिए क्या कुछ कदम उठाती है।


शिवराज सरकार में आवंटित बंगलो की होगी होगी जाँच

सिंधिया पर फिर भरोसा जताया पार्टी ने, मिली बड़ी जिम्मेदारी


 VT PADTAL