VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Sunday 19th of November 2017 | सेना ने 6 आतंकियों को किया ढेर, एक गरूड़ कमांडो भी शहीद

बांदीपोर एनकाउंटर: सेना ने 6 आतंकियों को किया ढेर


श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के बांदीपोर, हाजिन में हुए एनकाउंटर में सेना और सुरक्षाबलों ने छह आतंकियों को मार गिराया है। छह आतंकियों में से एक मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड जकी-उर-रहमान लखवी का भांजा भी शामिल है। हालांकि सेना की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है। एनकाउंटर में इंडियन एयरफोर्स का गरूड़ कमांडो भी शहीद हुआ है। और दो जवान घायल हुए हैं। फिलहाल इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवा रोक दी गई है।

शनिवार को हुई मुठभेड़ हाजिन कस्बे से करीब दो किलोमीटर दूर चंदरगीर इलाके में हुई। बताया जा रहा है कि पिछले तीन दिन से लगातार हो रही बारिश और हिमपात से बचने के लिए लश्कर के छह से सात आतंकी सुबह चंदरगीर में अपने किसी संपर्क सूत्र के पास आकर रुके थे। इसका पता चलते ही सेना की 13 आरआर (राष्ट्रीय राइफल्स) के जवानों ने पुलिस के विशेष अभियान दल के साथ मिलकर पूरे इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। लगभग आधा घंटा जब आतंकियों की तरफ से दोबारा फायरिंग नहीं हुई तो जवानों ने सावधानी पूर्वक पूरे इलाके की तलाशी ली और सात बजे अभियान को समाप्त घोषित कर दिया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने मुठभेड़ में छह आतंकियों के मारे जाने, एक गरुड़ कमांडो की शहादत व एक सैन्यकर्मी के घायल होने की पुष्टि की है। वहीं राज्य पुलिस महानिदेशक डॉ. एसपी वैद ने हाजिन मुठभेड़ की सफलता के लिए सेना व अन्य सुरक्षा एजेंसियों को बधाई देते हुए कहा कि उत्तरी कश्मीर में लश्कर लगभग पूरी तरह साफ हो गया है।

जकी उर रहमान लखवी लश्कर की सारी गतिविधियों का प्रभारी है। 30 दिसंबर, लखवी न सिर्फ पूरे जम्मू कश्मीर के लिए बल्कि चेचेन्या, इराक और अफगानिस्तान में भी लश्कर के आतंकियों को भेजने व प्रमुख हमलों की साजिश रचने के लिए जिम्मेदार है। मुंबई हमले की साजिश का भी वह मुख्य सूत्रधार है और इस मामले में पाकिस्तान में उसकी गिरफ्तारी भी हुई थी। अब्दुल रहमान मक्की लश्कर के संस्थापक हाफिज सईद की पत्नी और जकी उर रहमान लखवी का भाई है। वह लश्कर के मुख्य संगठन जमात उल दावा की गतिविधियों को देखता था। 


कांग्रेस की कार्य समिति गठित, इस बार दिग्विजय को नही मिली जगह

 पीएम मोदी दो दिवसीय पूर्वांचल दौरे पर, करोड़ों की योजनाओं का करेंगे शिलान्‍


 VT PADTAL