VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Thursday 23rd of November 2017 | असम स्वास्थ्य मंत्री के बिगड़े बोल!

बीमारी नहीं, पिछले जन्म के पाप का फल है कैंसर' : असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व सरमा 


गुवाहाटी(असम)। असम के मंत्री हेमंत बिस्व सरमा अजीबो गरीब बयान देकर विवादों में घिर गए हैं। गुवाहाटी में एक कार्यक्रम में हेमंत बिस्व सरमा ने कहा कि कैंसर पाप का फल है। उन्होंने कहा, ''कैंसर होना, एक्सीडेंट होना ये सब पूर्व जन्म के कर्मों का नतीजा है। ये ईश्वरीय न्याय है, ईश्वरीय न्याय होकर रहता है। कोई इससे बच नहीं सकता। 

गुवाहाटी में शिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में शर्मा ने कहा, ‘जब हम गुनाह या पाप करते हैं तो भगवान हमें दंड देता है। युवाओं को हम कैंसर ग्रस्‍त देखते हैं या फिर दुर्घटना का शिकार होना इसी तरह की सजा है। अगर आप पृष्ठभूमि देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि यह ईश्वर का न्याय है और कुछ नहीं। हमें ईश्वर के न्याय का सामना करना होगा।‘

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने ट्वीट कर लिखा, ''असम के मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने कहा - कैंसर पिछले जन्म के पाप का फल है। एक आदमी पर पार्टी बदलने का क्या ये असर होता है। ''आपको बता दें कि हेमंत बिस्व सरमा की गिनती असम के बड़े कांग्रेस नेताओं में होती थी लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले पाला बदलकर उन्होंने बीजेपी का हाथ थाम लिया है। जिसके बाद चिदंबरम ने तंज कसा है। 

वहीं चिदंबरम के तंज कसने के बाद जवाब देते हुए हेमंत बिस्व सरमा ने लिखा है, ''सर प्लीज, बयान को तोड़े मरोड़ें नहीं। हिंदू धर्म कर्म के आधार पर फल पर यकीन करता है और मनुष्य को दुख उन्हीं बुरे कर्मों की वजह से मिलता है जो उसने पिछले जन्म में किया। क्या आप इसपर यकीन नहीं करते ? मुझे नहीं पता आपकी पार्टी में हिंदू दर्शन पर चर्चा होती भी है या नहीं।"


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL