VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
'पद्मावती' पर रोक से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, जिम्मेदारों के बयानबाजी पर जाहिर की नाराजगी

'पद्मावती' पर रोक से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, जिम्मेदारों के बयानबाजी पर जाहिर की नाराजगी


नई दिल्ली। फिल्म पद्मावती के विदेश मे रिलीज पर रोक की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने  विचार करने से इंकार कर दिया है। इसके अलावा कोर्ट ने जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों के फिल्म के बारे मे बयानबाजी करने पर नाराजगी जताई। कोर्ट में निर्माता की तरफ से कहा गया कि सेंसर बोर्ड के प्रमाणपत्र के बाद ही फिल्म रिलीज होगी। सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म को लेकर बयानों पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा, 'जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों द्वारा ऐसे बयान देना सही नहीं है। इससे सामाजिक सद्भाव को नुकसान पहुंचेगा और यह कानून के सिद्धांत के भी खिलाफ है।' 

सुप्रीम कोर्ट ने सवाल उठाया कि आखिर बिना फिल्म देखे जिम्मेदार पद पर बैठे लोग इसको लेकर बयान क्यों दे रहे हैं? कोर्ट ने कहा कि जिम्मेदार पदों और पब्लिक ऑफिस में बैठे लोगों की बयानबाजी फिल्म को लेकर बंद हो, क्योंकि ये सेंसर बोर्ड के दिमाग में पक्षपात पैदा करेगा।

कोर्ट ने कहा कि अगर कोई ऐसा करता है तो वो कानून के राज्य के सिद्धांत का उल्लंघन करेगा। इन लोगों को ये बात दिमाग में रखनी चाहिए कि हम कानून के राज्य के तहत शासित होते हैं। जब सीबीएफसी के पास मामला लंबित हो तो जिम्मेदार लोगों को कोई टिप्पणी नहीं करनी चाहिए, क्योंकि सेंसर बोर्ड विधान के तहत काम करता है और कोई उसे नहीं बता सकता कि कैसे काम करना है। हमें उम्मीद है कि सब संबंधित लोग कानून का पालन करेंगे। 


महाक्षय और योगिता बाली को मिली अग्रिम जमानत , भोजपुरी एक्ट्रेस ने लगाया था र

‘गोल्ड’ का पहला गाना हुआ रिलीज़, ट्विटर पर भी हो रहा काफी शेयर  


 VT PADTAL