VT Update
स्टार रेटिंग सर्वे करने आई 5 सदस्य टीम ने वार्डों में की पूछताछ ली जनता की राय फीडबैक के आधार पर ही नगर निगम रीवा को मिलेंगे महत्वपूर्ण अंक शासन में जनभागीदारी का सबसे बड़ा मंच अब आम नागरिक सोशल मीडिया से सीधे जुड़ेंगे सीएम से 27 जनवरी को मुख्यमंत्री नागरिकों को समर्पित करेंगे नया इंटरेक्ट पोर्टल भाजपा विधायक सुरेंद्र पटवा को चार मामलों में मिली सजा चेक बाउंस और लोन का करोड़ों रुपए नहीं चुकाने के 4 प्रकरणों में सुनाई गई 6 माह की सजा राजगढ़ कलेक्टर पर 61 वर्षीय एएसआई और पटवारी को थप्पड़ मारने का भी आरोप ईएसआई ने की शिकायत टीम इंडिया ने t20 में चौथी बार पार किया 200+ रन का लक्ष्य t20 में न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया
Wednesday 20th of November 2019 | फेक अकाउंट में लिखा माँ बीमार है , अकाउंट में डलवा लिए 3 हजार डॉलर |

फेक फेसबुक अकाउंट से रहे, सावधान ! कही आप भी ना हो जाये इसके शिकार |


सायबर अपराधियों ने जबलपुर के एक युवक को 3 हज़ार डॉलर की चपत लगा दी| ये युवक फिलहाल अमेरिका (America) में है| बेरोजगारी इतनी ज्यादा बढती जा रही है की  बदमाशों ने ठगी के लिए मां को भी नहीं बख़्शा| मां की बीमारी के नाम पर पैसे वसूल लिए गए|

अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहने वाले जबलपुर के पलाश जैन को सायबर बदमाशों ने चूना लगा दिया| बदमाश इतने शातिर हैं कि उन्होंने पलाश के एक दोस्त के नाम से फर्ज़ी फेसबुक आईडी बनायी और मां की बीमारी के नाम पर पैसे मांगे| दोस्त की मां के नाम पर पलाश भावुक हो गए और उन्होंने फौरन 3 हज़ार डॉलर यानि सवा दो लाख उसके अकाउंड में डाल दिए| बाद में दोस्त से बात होने पर पता चला कि उन्हें तो किसी शातिर ने ठग लिया है|
पिता ने की शिकायत
पलाश के पिता अजय जैन ने स्टेट साइबर सेल में एक लिखित शिकायत दर्ज कराई है| अजय जैन के मुताबिक उनके बेटे पलाश का एक युवक जिगरी दोस्त है जिसका नाम अनुराग पाण्डेय| शातिर बदमाशों ने अनुराग के नाम से फेक फेसबुक अकाउंट बनाया और उसमें अनुराग की मां के बीमारी होने की बात कही| आनन-फानन में पलाश ने अपने पिता को फोन कर पूरी घटना की जानकारी दी|

 फरीदाबाद का है बैंक अकाउंट
मामले की विवेचना कर रहे साइबर सेल प्रभारी विपिन ताम्रकार के मुताबिक कैलिफोर्निया में हुई हाईटेक ठगी का जाल जबलपुर सहित दिल्ली तक फैला है| अनुराग के नाम से बनाए गए फेक फेसबुक अकाउंट में जिस बैंक का अकाउंट नंबर दिया गया था, वो फरीदाबाद के कोटक महिंद्रा बैंक का है| आपको बता दें की जिसने भी इस वारदात को अंजाम दिया वो पलाश और अनुराग की दोस्ती से वाकिफ था|

सायबर सेल एसपी अंकित शुक्ला उन्होंने लोगों से अपील की है कि पैसे के लेन-देन के मामले सोशल मीडिया या वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क के ज़रिए ना करें| अगर पलाश ने सीधे अपने दोस्त से फोन पर बातचीत की होती तो वो ठगी का शिकार नहीं होता|

 


भीड़ ने बुजुर्ग को उतारा मौत के घाट, पुलिस ने 10 लोगों को किया गिरफ्तार

गोविंदगढ़  में चोरी की घटना को अंजाम देने आए थे बदमाश, मार दी गोली


 VT PADTAL