VT Update
आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला संतों की मन की बात कार्यक्रम के तहत रीवा के पद्मधर पार्क में सम्पन्न हुआ संत समागम, कंप्यूटर बाबा सहित अन्य संतों ने मुख्यमंत्री शिवराज को बताया भ्रष्टाचारी, कहा संतो को ‘शिव’ राज नही ‘नाथ’ चाहिए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की शुरुआत नक्सल प्रभावित बस्तर और राजनांदगांव से आज, छत्तीसगढ़ की 18 सीटों पर आज होगा मतदान संघ शाखाओं में कर्मचारियों के जाने पर रोक लगाने के कांग्रेसी अजेंडे पर मचा बवाल, भाजपा ने कहा हिम्मत है तो रोक कर दिखाओ, कांग्रेस का पलटवार हम शाखा बंद करके दिखायेंगे
Monday 4th of December 2017 | भारत में भगोड़ा घोषित हो चुके शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने की कोशिश में सरकार

भारत में भगोड़ा घोषित हो चुके शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने की कोशिश में सरकार


लंदन। भारत में भगोड़ा घोषित हो चुके शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने के लिए सरकार पूरी कोशिश में लगी है। इसी कड़ी में माल्या के प्रत्यार्पण मामले की सुनवाई ब्रिटेन की कोर्ट में आज से सुनवाई शुरू होगी। यह सुनवाई यहां के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में होगी।

माल्या मार्च 2016 में भारत से भागकर यहां ब्रीटेन में रह रहा है। बंद पड़ी किंगफिशर एयरलाइंस पर विभिन्न बैंकों को 9000 करोड़ रुपए से अधिक का बकाया है। हालांकि माल्या अपने खिलाफ लगे सभी आरोपों का खंडन करते हुए कह चुके हैं कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया। माल्या की बचाव टीम की अगुवाई बैरिस्टर क्लेयर मोंटगोमरी कर रही हैं जिन्हें आपराधिक व धोखाधड़ी के मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है। मामले की सुनवाई 14 दिसंबर तक चलेगी जिसमें 6 और 8 दिसंबर को अवकाश रहेगा।

अक्टूबर में सट्टेबाज संजीव चावला के प्रत्यर्पण मामले में डॉ. मिशेल की गवाही का काफी प्रभाव पड़ा था। वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने जेल में मानवाधिकार उल्लंघन के आधार पर चावला के प्रत्यर्पण को खारिज कर दिया था। माल्या के मामले में पूर्व में सुनवाई के दौरान चीफ मजिस्ट्रेट एम्मा लुइस अर्बुथनॉट ने जेल की स्थितियों को लेकर चिंता जताई थी। भारत की तरफ से पेश क्राउन प्रोसीक्यूशन सर्विस (सीपीएस) ने कोर्ट को प्रत्यर्पण के बाद माल्या की सुरक्षा को लेकर भारतीय अधिकारियों द्वारा आश्वस्त किए जाने की जानकारी दी।

ब्रिटेन में शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रर्त्यपण मामले की सुनवाई के दौरान केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) की एक टीम भी मौजूद रहेगी। सूत्रों ने बताया कि विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के नेतृत्व में यह टीम रविवार को लंदन रवाना हो गई है। 


हाफिज की रिहाई पर बोले राहुल गांधी: मोदी और ट्रंप की दोस्ती से नहीं बनी बात !

आतंकवाद पर डोनाल्ड ट्रंप ने की घोषणा


 VT PADTAL