VT Update
देश के हर घर को बिजली देने की कोशिश हो रही है: राष्ट्रपति कोविंद सरकार ने गरीबों के लिए बैंकिंग सुविधा को आसान किया: राष्ट्रपति कोविंद रामगढ़ उपचुनाव: कांग्रेस की साफिया खान जीतीं J-K:अनंतनाग में पुलिस स्टेशन पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिक और 1 जवान घायल गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष
Friday 8th of December 2017 | गुजरात चुनाव के पहले बीजेपी सांसद का इस्तीफा

महाराष्ट्र के सांसद ने दिया लोकसभा से इस्तीफा


Turn off for: Hindi
 
 
महाराष्ट्र के सांसद ने दिया लोकसभा से इस्तीफा

 

नई दिल्ली । गुजरात विधानसभा के मतदान के एक दिन पूर्व बीजेपी को बड़ा झटका लगा है.महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया से बीजेपी सांसद नाना भाई पटोले ने प्रधानमंत्री की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं. बीजेपी सांसद का कहना है कि मोदी सरकार के तीन साल पूरा होने पर उन्होने प्रधानमंत्री के सामने किसानों का मुद्दा उठाया था जिसे नहीं सुना गया इसके बाद उन्होंने यह बात मीडिया में भी कही थी परंतु इस पर कोई कार्यवाई नहीं की गई.

आपको बता दें प्रधानमंत्री की कार्यशैली पर सवाल उठाने वाले बीजेपी सांसद नाना भाई पटोले महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया सीट से वर्ष 2014 में जीतकर लोकसभा तक पहुँचे थे इन्होंने तब एनसीपी के दिग्गज नेता प्रफुल्ल पटेल को करारी शिकस्त दी थी.

पटोले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से भी नाराज चल रहे हैं उन्होंने बीजेपी के पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा के नेतृत्व में चल रहे किसानों के आंदोलन में भी हिस्सा लिया था इसके अलावा पटोले ने पिछले महीने पत्रकार वर्ता आयोजित कर बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला था और उन्होंने नोटबंदी तथा जीएसटी को भी गलत ठहराया था.

पिछले सप्ताह बीजेपी सांसद नाना भाई पटोले की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाधी से मिलने की खबरें भी सामने आई थी जिसके बाद अब उनका यह इस्तीफा साफतौर पर दर्शाता है की वह अब कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं

दरअसल एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल की बीजेपी से बढ़ती नजदीकियां भी पटोले के इस्तीफे की वजह मानी जा रही है पिछले दिनों जिस तरह से प्रफुल्ल पटेल ने बीजेपी के लिए दिल बड़ा किया है और गुजरात के राज्यसभा चुनाव में दोनों विधायकों के वोट कांग्रेस प्रत्याशी अहमद पटेल के बजाय बीजेपी के उम्मीदवार को दिलाए थे, माना जा रहा है कि प्रफुल्ल पटेल के चलते ही गुजरात में कांग्रेस और एनसीपी के बीच गठबंधन नहीं हो सका है इस तरह कांग्रेस भी प्रफुल्ल पटेल से नाराज चल रही थी ऐसे में पटोले को भी अपना सियासी ठिकाना तलाशना था इसी कारण उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल से मुलाकात की थी.


ममता ने खेला नया सियासी पैतरा, योगी के हैलिकाप्टर को उतरने की नहीं दी अनुमति

“माफ़ करो महराज” वाले जुमले पर गौर ने पार्टी को घेरा


 VT PADTAL