VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
राहुल के इंटरव्यू पर सख्त हुआ चुनाव आयोग

आचार संहिता के दौरान इंटरव्यू पर बवाल


 

पिछले दिनों टीवी. चैनल को दिए इंटरव्यू के बाद राजनैतिक गलियारों में कोहराम मच गया है. केंद्रीय चुनाव आयोग ने राहुल गांधी को इंटरव्यू के लिए नोटिस जारी किया है. चुनाव-आयोग ने राहुल गाँधी  से जवाब मांगा कि क्यों ना उनके खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के मामले के तहत कार्रवाई की जाए? चुनाव आयोग ने राहुल गांधी को 18 दिसंबर को शाम पांच बजे तक जवाब देने को कहा है.


गुजरात चुनाव में दूसरे चरण की वोटिंग से एक दिन पहले कांग्रेस के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का इंटरव्यू दिखाने पर चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए इस इंटरव्यू को आचार संहिता का उल्लंघन माना है. चुनाव आयोग ने इंटरव्यू दिखाने वालों चैनलों के खिलाफ एफआईआर का भी आदेश दिया है. आयोग ने आगे इंटरव्यू दिखाने पर भी रोक लगा दी है.


बीजेपी ने इंटरव्यू दिखाने पर आयोग में आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत की थी. बीजेपी की ओर से रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा की हमें आचार सहिंता की समझ है चुनाव के 48 घंटे के भीतर इंटरव्यू नहीं दे सकते. चुनाव आयोग से भी हमें यही जानकारी मिली है कि कल शाम से इंटरव्यू देने की इजाजत नहीं थी. कांग्रेस के लोग शायद घबराए हुए हैं, उन्हें लग रहा है कि मामला बिगड़ रहा है. उन्हें डर लग रहा है कि बीजेपी 150 से ज्यादा सीट जीत जाएगी, इसी के कारण वे आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं. इसका जवाब शायद राहुल गांधी ही दे पाएंगे.''


बीजेपी की ओर से रेल मंत्री पीयूष गोयल सामने आए. उन्होंने कहा, ''जहां तक हमें आचार सहिंता की समझ है चुनाव के 48 घंटे के भीतर इंटरव्यू नहीं दे सकते. चुनाव आयोग से भी हमें यही जानकारी मिली है कि कल शाम से इंटरव्यू देने की इजाजत नहीं थी. कांग्रेस के लोग शायद घबराए हुए हैं, उन्हें लग रहा है कि मामला बिगड़ रहा है. उन्हें डर लग रहा है कि बीजेपी 150 से ज्यादा सीट जीत जाएगी, इसी के कारण वे आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं. इसका जवाब शायद राहुल गांधी ही दे पाएंगे.''
पीयूष गोयल ने कहा, ''हमने कभी ऐसे इंटरव्यू नहीं दिए, चुनाव आयोग की ओर से जो जिसकी इजाजत दी गई है बीजेपी कभी उससे बाहर नहीं गई.''

 

राहुल गाँधी के द्वारा दिए इंटरव्यू के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है.कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ''अगर चुनाव में वोट पड़ने से एक दिन पहले इंटरव्यू चलाना गैरकानूनी और असंवैधानिक है तो 2014 के चुनाव से ठीक एक दिन पहले मोदी जी ने एक भक्त चैनल को इंटरव्यू क्यों दिया था?' रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ''राहुल गांधी का इंटरव्यू जब गुजरात के कुछ चैनलों ने लिया तो बीजेपी बहुत आंदोलित हो गई. क्या बीजेपी राजनीति के मापदंडों को यहां तक गिरा देगी कि मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री टीवी पर जाकर प्रेस के लोगों को डराएंगे. ये कहेंगे कि चुनाव आयोग उनकी मुट्ठी में है. क्या चैनलों का कसूर सिर्फ इतना है कि उन्होंने राहुल गांधी का इंटरव्यू दिखाने का साहस किया.''



एबीपी न्यूज़ के सहयोगी चैनल एबीपी अस्मिता को दिए इंटरव्यू में राहुल गाधी ने बीजेपी और पीएम मोदी पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने कहा, ''ये चुनाव एकतरफा चुनाव है. इस बार चुनाव में कांग्रेस की जीत होगी और बीजेपी नतीजों से चौंक जाएगी. लोगों की भावना अब बदल गई है. 92 सीट वाली बात अब नहीं है. कांग्रेस इस बार गुजरात का चुनाव जीतने वाली है.''


उन्होंने कहा, ''पीएम मोदी हमारे बारे में कुछ भी बोल सकते हैं, लेकिन हम वैसी भाषा नहीं बोलेंगे.'' उन्होंने कहा, ''मणिशंकर जी ने गलत बात बोली हमने तुरंत एक्शन लिया. मैंने मणिशंकर जी को साफ-साफ कह दिया कि प्रधानमंत्री के बारे में ऐसा कुछ नहीं बोला जाएगा. वो हमारे बारे में कुछ भी बोलें लेकिन कांग्रेस पार्टी ऐसा नहीं बोलेगी.''

 

 


कुमारस्वामी ने साबित किया बहुमत

वाराणसी: निर्माणाधीन फ्लाईओवर के स्लैब गिरने हुआ बड़ा हादसा, अब तक 12 की मौत  


 VT PADTAL