VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Saturday 6th of January 2018 | चारा घोटाला में सीबीआई कोर्ट का बड़ा फैसला

चारा घोटाला मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, राजद प्रमुख लालू यादव को साढ़े तीन साल की हुई सजा


चारा घोटाला के मामले में दोषी करार दिए गए आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई गई है इसके साथ ही लालू को 5 लाख रुपये जुर्माना भी लगाया गया है. वहीं जुर्माना नहीं देने पर 6 महीने की अतिरिक्त सजा काटनी होगी. जबकि जगदीश शर्मा समेत 4 अन्य आरोपियों को 7 साल की सजा सुनाई गई है और 10 लाख रुपये जुर्माना लगाया गया है.

रांची की सीबीआई अदालत से लालू यादव समेत सभी 16 दोषियों के खिलाफ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फैसला सुनाया गया. लालू रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं.

इससे पहले शनिवार दोपहर दो बजे के बाद विशेष कोर्ट के जज शिवपाल सिंह कोर्ट रूम पहुंचे थे. जबकि जेल में बंद लालू समेत सभी 16 दोषी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई में शामिल हुए. इस दौरान 6 दोषियों की सजा पर सुनवाई भी हुई. जिसके बाद जज ने सभी दोषियों को फैसले के लिए शाम 4 बजे तक इंतजार करने का आदेश दिया था
सीबीआई के विशेष जज शिवपाल सिंह ने बिहार के पूर्व सीएम डा. जगन्नाथ मिश्रा, बिहार के पूर्व मंत्री विद्या सागर निषाद, पीएसी के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत, हार्दिक चंद्र चौधरी, सरस्वती चंद्र एवं साधना सिंह को निर्दोष करार देते हुए बरी कर दिया था. इस मुकदमे में लालू, पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा, बिहार के पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, पीएसी के तत्कालीन अध्यक्ष जगदीश शर्मा एवं ध्रुव भगत, आरके राणा, तीन आईएएस अधिकारी फूलचंद सिंह, बेक जूलियस और महेश प्रसाद और 29 अन्य आरोपी थे. कुल 38 आरोपियों में से सुनवाई के दौरान जहां 11 की मौत हो गयी, वहीं तीन सीबीआई के गवाह बन गये तथा दो ने अपना गुनाह कबूल कर लिया था जिसके बाद उन्हें 2006-07 में ही सजा सुना दी गयी थी.


कांग्रेस की कार्य समिति गठित, इस बार दिग्विजय को नही मिली जगह

 पीएम मोदी दो दिवसीय पूर्वांचल दौरे पर, करोड़ों की योजनाओं का करेंगे शिलान्‍


 VT PADTAL