VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Friday 12th of January 2018 | हम तो खास हैं, फिर ऐसा काहे हुजूर

लालू ने की सीबीआई जज से शिकायत,फिर जज ने भी डे दिया सालिड जवाब


 मेरे साथ जेल में हो रहा है आम कैदी के तरह बर्ताव,हम तो खास हैं न. आम तौर पर हमारे देश की न्याय प्रणाली में सजा मिलने के बाद जेल में नेताओ को कुछ खास सुविधाए उपलब्ध कराई जाती है. लालू प्रसाद को जेल प्रशासन की ओर से ऐसी कोई ख़ास सुविधा नही दी जा रही है जिससे खफा लालू जी ने इसकी  शिकायत खुद सीबीआई के जज से कि है और लालू के सेवादार भी जेल से रिहा कर दिए गए हैं जो कि एक झूठे मामले के तहत जेल में आये थे. जज शिवपाल सिंह ने ही लालू को 89.27 लाख रुपये के चारा घोटाले में 6 जनवरी को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई थी और साथ ही उन पर 10 लाख का जुर्माना भी लगाया था. कोर्ट रूम में मौजूद लोगो का कहना है की जज और लालू की बात चीत के दौरान सभी के चेहरों पर मुस्कान थी जज ने लालू प्रसाद से पूंछा की आपको कोई दिक्कत तो नही है तो लालू बोले की जेल प्रशासन हमारे पार्टी कार्यकर्ताओ से मिलने की इजाजत नही देता है, जज ने कहा कि आंगतुकों को जेल के नियमों का पालन करने पर ही आपसे मिलने दिया जाएगा, इसलिए मैंने आपके लिए खुली जेल की सिफारिश की थी लालू ने जज से यह भी कहा की मेरे साथ आम कैदी के तरह बर्ताव किया जाता है जिस पर जज ने साफ़ साफ़ अक्षरों में कह दिया की जेल के नियम सबके लिए बराबर हैं.


कांग्रेस की कार्य समिति गठित, इस बार दिग्विजय को नही मिली जगह

 पीएम मोदी दो दिवसीय पूर्वांचल दौरे पर, करोड़ों की योजनाओं का करेंगे शिलान्‍


 VT PADTAL