VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Tuesday 16th of January 2018 | रेप की घटनाओं पर मौन देश

आंकड़ें सब बयां कर रहे..सरकार की नाकामी और समाज की जिम्मेदारी


रेप की घटनाओं पर देश की चुप्पी समझ से परे है . शायद हर दिन अखबार,टीवी इन्टरनेट में देख-सुनकर देश भी थक गया .पिछले एक हफ्ते से हरियाणा में जो कुछ भी हो रहा वो सिस्टम के साथ-साथ हमारे समाज के मुह में भी तमाचा है. गैंगरेप के बाद हत्याओं का वो मंजर पता नहीं देश कैसे चैन की नींद सो रहा है. एक हफ्ते में रेप की घटनाओं से हरियाणा और देश का सिर शर्म से झुख गया है. पानीपत, जींद, कुरुक्षेत्र, पंचकुला और फरीदाबाद में एक के बाद एक रेप की घटनाओं ने राज्य की राजनीति में तूफान ला दिया है. तीन घटनाओं में अपहरण करने के बाद गैंगरेप की भी पुष्टि भी हो गई है. एक के बाद एक चार रेप की घटनाओं ने राज्य पुलिस और कानून व्यवस्था को कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है.

‘निर्भया’ गैंगरेप जैसी वारदात सामने आने के बाद कोहराम मचा हुआ है. जिंद में दसवीं कक्षा की 15 साल की एक दलित लड़की का शव एक नहर के किनारे से मिला है. घटना शनिवार शाम की है. शव की हालत देखकर 'निर्भया' जैसी करतूत अंजाम देने की बात सामने आ रही है.

जिंद गैंग रेप केस पीड़िता के शरीर पर जख्मों के कई निशान हैं. प्राइवेट पार्ट पर बेरहमी से चोट पहुंचाई गई है. जख्मों को देखकर लगता है कि इस घटना में 3-4 लोग शामिल होंगे. आरोपियों पर आईपीसी की धारा 302 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले की जांच के लिए दो एसआईटी का गठन भी कर दिया गया है.

दूसरा मामला कुरुक्षेत्र का है, जहां पीड़ित लड़की को अगवा कर उसका बलात्कार किया गया है. पीड़ित लड़की के पिता ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'हम इंसाफ चाहते हैं. अगर प्रशासन समय पर एक्शन लेता तो यह घटना सामने नहीं आती.'

मीडिया रिपोर्ट्स में जिंद रेप के पीछे 12वीं क्लास के एक छात्र का हाथ होने का शक गहराता जा रहा है. हरियाणा पुलिस ने इस मामले में अब तक 6 लोगों को हिरासत में लिया है. हिरासत में लिए गए सभी लोगों से पूछताछ चल रही है.

बीते कुछ ही घंटों में जिस तरह से सिलसिलेवार घटनाएँ हुई हैं उससे आम आदमी डरा हुआ है जींद की 15 साल की लड़की और पानीपत की 11 साल की लड़की के साथ रेप हुआ है. रेप के बाद जिस तरह से शवों के साथ सुलूक किया गया वह भी अपने आप में चौकाने वाली घटना है.रेप के दौरान बच्ची की मौत के बाद भी दरिन्दे रेप करते रहे.

पंचकूला की एक घटना ने तो पूरी इंसानियत को शर्मसार कर दिया. एक 50 साल के व्यक्ति ने 10 साल की बच्ची के साथ रेप किया. नाबालिग लड़की अस्पताल में जिंदगी और मौत से अभी भी जूझ रही है. हरियाणा पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार लिया है.

 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं –

सरकार की योजना बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ सिर्फ पोस्टर और विज्ञापन तक ही सीमित रह जाएगी . हरियाणा,मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र,दिल्ली और अन्य सभी राज्यों में हालात बेहद ख़राब हैं .रेप की बढ़ती घटनाओं और महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार को क्या माना जाये सरकार की नाकामी और समाज की चुप्पी बस. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं को लेकर सरकार बड़े आयोजन करती है बड़े व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार की बात करती है लेकिन ऐसी घटनाओं के बाद सरकारी वादे और सरकारी तंत्र सब फेल होता दिखता है. खट्टर सरकार को इतनी मजबूर है बस आश्वासन ही दे सकती है.

आंकड़ें तमाचे जैसे हैं-

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा भारत में हर घंटे महिलाओं के खिलाफ कम से कम 40 मामलों की जानकारी मिलती है. साल 2016 में महिलाओं के खिलाफ अपराध की दर प्रति लाख महिलाओं पर 55.2 दर्ज की गई थी. साल 2007 के बाद हर साल इस आंकड़ों में तेजी ही आई है.

महिलाओं के खिलाफ होने वाले ज्यादातर अपराध रिश्तेदारों या जान-पहचान वालों के द्वारा ही किया जाते हैं. महिलाओं के खिलाफ सभी अपराधों में से 12 फीसदी हिस्सेदारी बलात्कार के मामले होती है. हरियाणा से सटे दिल्ली में भी महिलाओं के साथ होने वाले अपराध में कोई खास कमी देखने को नहीं मिली है, दिल्ली पुलिस ने हाल ही में अपनी सालाना रिपोर्ट में आंकड़ा जारी करते हुए कहा है कि पिछले कुछ सालों के बाद साल 2017 में महिला अपराध खासकर रेप के मामलों में थोड़ी कमी आई है. साल 2017 में रेप के लगभग 2050 केस दर्ज किए गए हैं. दिल्ली पुलिस के मुताबिक 38 प्रतिशत केस में रेप करने वाले लोग ही रेप पीड़िता के करीबी निकले हैं.


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL