VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
फरार आरोपियों को ढूंढ कर बनाया मंत्री : नेता प्रतिपक्ष

शिवराज सरकार की मंत्रीमंडल पर नेता प्रतिपक्ष का वार, कहा फरार अरोपियों को मिल रही है मंत्रीमंडल में जगह


चुनावी साल की शुरूआत में ही मध्यप्रदेश की बीजेपी सरकार ने अपने मंत्रीमडल का विस्तार किया है. जिसके बाद अब धीरे-धीरे उसकी मुश्किलें तेज हुई हैं क्योकि अब विपक्ष ने आगामी चुनाव को देखते हुए प्रदेश सरकार पर हमला करना शुरु कर दिया है. जिसके कारण आने वाले चुनाव में बीजेपी का यह मंत्रीमंडल विस्तार उसके लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है.

आपको बता दें शनिवार को राजधानी के राजभवन में भारतीय जनता पार्टी के तीन नेताओं ने मंत्रीपद की शपथ ली है जिसमें ग्वालियर से भाजपा विधायक नारायण सिंह कुशवाहा, खरगोन से विधायक बालकृष्ण पाटीदार, और नरसिंहपुर से विधायक जालम सिंह पटेल के नाम शामिल हैं.

इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी के इन मंत्रियों के शपथ के बाद ही कांग्रेस नें बीजेपी के मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर घेरना शुरु कर दिया है. जिसपर नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार का मंत्रीमंडल आरोपियों और दागियों के लिए शरणस्थली बन गया है इसके अलावा बीजेपी की मंत्रीमंडल लिस्ट पर बात करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि राजनीतिक कारणों से किए गए इस विस्तार से भारतीय जनता पार्टी का संस्कार और संस्कृति की बात करने वाला असली चेहरा सामने आ गया है.

दरअसल नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि शिवराज सरकार के मंत्रीमंडल में राज्यमंत्री के रुप में जालम सिंह पटेल को शामिल किया है जो कि एसआईटी पुलिस के रिकार्ड के अनुसार फरार है. इस पर बात करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जिस व्यक्ति को ढूंढ़ने में पुलिस नाकामयाब हुई थी उसे हमारे मुख्यमंत्री जी ने ढूंढ़कर मंत्री बना दिया इसके अलावा मंत्री लाल सिंह आर्य पर भी नेता प्रतिपक्ष ने बात की तथा बताया कि वह भी हत्या के आरोपी हैं जो की मध्यप्रदेश के मंत्रीमंडल में मंत्री हैं और पुलिस की लिस्ट में फरार हैं 


रामदेव की टिप्पणी से आहत हुई उमा, पत्र लिख जताई नाराजगी

कमलनाथ की पहली लिस्ट पर ही खड़े हुए सवाल


 VT PADTAL