VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Tuesday 13th of March 2018 | S.B.I बैक खाताधारकों के लिए बड़ी राहत

S.B.I बैक खाताधारकों के लिए बड़ी खबर, अब अकाउंट में मिनिमम बैलेंस के लिए नहीं लगेंगा भारी जुर्माना


अक्सर यह देखा जाता है कि जब किसी भी बैक के खाताधारक के खाते में मिनिमम बैंलेंस कम हो जाता है तो बैंकों के द्वारा मिनिमम बैलेंस के कम होने पर भारी मात्रा में जुर्माना लगा दिया जाता है जिससे हमेशा उस व्यक्ति के खाते से हर माह 100 से ज्यादा रुपये कम हो जाते हैं जिनके खाते में मिनिमम बैंलेंस कम होता है.

दरअसल बैंकों की इस प्रणाली की वजह से खाताधारकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ जाता है लेकिन अब इस सिलसिले में भारत का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई अपने बैंक के खाताधारकों के लिए बड़ी राहत लेकर आया है.

आपको बतादें बैंकों के द्वारा मिनिमम बैलेंस पर लगाई जा रही पेनाल्टी को अब एसबीआई ने कम करके अपने खाताधारकों के लिए बड़ी राहत दी जिसमें अब एसबीआई बैंक के खाताधारकों को मिनिमम बैलेंस पर जो पेनाल्टी के चार्ज लगाए जाते थे उसे 75 प्रतिशत तक कम कर दिया गया है.

मध्यप्रदेश में एसबीआई बैंक के आधिकारी के द्वारा इस संदर्भ में बात करते हुए बताया गया कि जो पेनाल्टी लोगों के मिनिमम बैलेंस में काटी जाती थी उसे अब बैंक के द्वारा कम कर दिया गया है तथा शहरी क्षेत्रों के लोगों से जो अब तक 50 रुपये प्रतिमाह के रुप में पेनाल्टी ली जाती थी उसे कम करके अब सिर्फ 15 रुपये तक कर दिया जायेगा इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र के लोगों से अब तक जो 40 रुपये प्रतिमाह तक पेनाल्टी ली जाती थी उसे कम करके 12 रुपये तक कर दिया जायेगा. उन्होने बताया कि इसकी शुरुआत 1 अप्रैल 2018 से देशभर के सभी एसबीआई ब्रांचों में लागू कर दी जायेगी.     


शिवराज का दावा, भाजपा की बनेगी लगातार चौथी बार सरकार

एग्जिट पोल पर बोले शिवराज ‘सबसे बड़ा सर्वेयर मैं खुद’


 VT PADTAL