VT Update
पूर्व प्राचार्य पर दर्ज F.I.R रद्द करने की उठी मांग, प्राध्यापको ने की बैठक ब्रम्हण समाज ने सौपा एस.पी को ज्ञापन R.P.F के D.I.G विजय कुमार खातरकर रेलवे ने रेलवे अफसर की पत्नी के साथ की छेड़छाड़, नरसिंहपुर के पास ओवरनाइट एक्सप्रेस मे वारदात,F.I.R दर्ज इंदौर का देवी अहिल्याबाई होल्कर एयरपोर्ट अब बन गया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, सोमवार को पहली बार इंदौर से दुबई के लिए अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट ने भरी उड़ान राहुल के इस्तीफे के 50 दिन बाद भी अब तक किसी को नहीं चुना गया कांग्रेस अध्यक्ष , कर्नाटक विवाद सुलझने के बाद फैसले की उम्मीद भारतीय नौसेना की बढ़ाई जा रही ताकत, जल्द खरीदी जा सकती हैं 100 टारपीडो मिसाइल, 2000 करोड़ का टेंडर जारी
Saturday 24th of March 2018 | बन सकेंगें प्रदेश अध्यक्ष

चुनाव से पहले प्रदेश अध्यक्ष बदलेगा भाजपा ,नंबर वन पर तोमर का नाम


चुनावी साल की शुरुआत से ही लगातार बीजेपी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रहीं हैं कहीं पार्टी के जिम्मेदार नेताओं के बयान तो कहीं खुद पार्टी अध्यक्ष नंदकुमार चौहान के बेबुनियादी बयान हमेशा चर्चा में रहे हैं. इसके अलावा पार्टी के लिए खतरनाक साबित हुआ कोलारस तथा मुंगावली का उपचुनाव जिसके बाद अब इन सभी मुश्किलों से निकलने की कोशिश लगातर बीजेपी कर रही है ताकि आने वाले चुनाव में मजबूती के साथ विपक्ष का सामना किया जा सके.

दरअसल आगामी चुनाव को देखते हुए भारतीय जनता पर्टी संगठन स्तर तक अपनी तैयारी को पूरी रखना चाहती है जिसके लिए अब पार्टी के अंदर उथलपुथल होनी शुरू हो गई. सूत्रों की मानें तो सीएम शिवराज के दल्ली से वापस आने के बाद संगठन स्तर पर कुछ बदलाव होने की सुगबुगाहट तेज हो गई हैं. जिसमें कयास लगाए जा रहे हैं कि चुनाव के पहले एकबार फिर शिवराज के मंत्रीमंडल में फेरबदल होगी वहीं अब पार्टी नए प्रदेश अध्यक्ष के साथ चुनावी मैदान में भी उतरना चाहेगी.

आपको बतादें जब से प्रदेश में पार्टी अध्यक्ष को बदलने की बात हुई हैं तभी से राजनितिक समझ रखने वाले लोगों ने पार्टी के लिए कई नामों पर अध्यक्ष बनाए जाने का जिक्र करना शुरु कर दिया है. जिनमें पहला नाम राष्ट्रीय महासचिव तथा पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कैलाश विजयवर्गीय का है जिनकों लेकर पार्टी शीर्ष नेतृत्व प्रदेश अध्यक्ष के लिए विचार कर रही हैं वहीं प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान तथा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के करीबी रहे नरोत्तम मिश्र का नाम भी प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की सूची में आता है हालाकि नरोत्तम मिश्रा को यह जिम्मेदारी देना उचित नहीं माना जा सकता क्योकि वह सीएम शिवराज के करीबी माने जाते हैं ऐसे में अगर वह पार्टी अध्यक्ष बने तो उनका काम संगठन स्तर तक का होगा.

इसके अलावा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के लिए तीसरा एवं महत्वपूर्ण नाम केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का आता है तोमर का नाम इसलिए भी महत्वपूर्ण कहा जा सकता है क्योंकि वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार चौहान के पहले प्रदेश में पार्टी अध्यक्ष तोमर ही थे इसके साथ ही उनके कुशल नेतृत्व क्षमता से ही 2008 तथा 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को बड़ी सफलता मिली है वहीं शुक्रवार को सीएम शिवराज ने दिल्ली में तोमर से मुलाकात भी की जिसके बाद कयास लगाए जाने लगे कि अगला प्रदेश अध्यक्ष उन्हे ही नियुक्त किया जा सकता है.


खजाना भरने के लिए बाजार पहुंची कमलनाथ सरकार, मांगा 1 हजार करोड़ का कर्ज

इंदौर एयरपोर्ट से दुबई के लिए आज़ उड़ान भरेगी एयर इंडिया, 29 मई को इंटरनेशनल एय


 VT PADTAL