VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Sunday 25th of March 2018 | उ.प्र. ATS की रीवा में बड़ी कार्यवाई !

आतंकवादी संगठनो से जुड़े रीवा से तार , UP ए टी एस की बड़ी कार्यवाई


देश और दुनिया के कुख्यात आतंवादी संगठन लश्कर ए तैयबा के तार रीवा से जुड़े हैं यूपी के आतंक रोधी दस्ते ATS की कार्यवाई के दौरान जिले के सेमरिया से 2 युवकों को पकड़ा गया है तथा पूछ ताछ शुरू है उत्तर प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े 10 सदस्यों को गोरखपुर, लखनऊ, प्रतापगढ़ और मध्य प्रदेश के रीवा में मारे गये छापों और पूछताछ के बाद 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।

यह जानकारी एटीएस के महानिरीक्षक असीम अरुण ने लखनऊ ने पत्रकारों को दी है तथा उन्होंने बताया की कुछ दस्तावेज भी मिले हैं, जिन्हें खंगाला जा रहा है एवं इन लोगों की गिरफ्तारियां कुछ दिन पहले जम्मू में पकड़े गये जासूसी के आरोप में गिरफ्तार दादू और सत्येन्द्र तथा सतना में गिरफ्तार बलराम की निशानदेही पर की गयी हैं। उनका दावा है कि इन तीनों को भी पैसा इन्हीं लोगों से मिलता था।

रीवा और पडोसी जिले सतना से पहले भी आतंकवादियों से तार जुड़ चुके हैं, इस बार जिले के सेमरिया क्षेत्र में उत्तर प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े दो आरोपियों उमाप्रताप सिंह उर्फ़ सौरभ सिंह एवं घनश्याम सिंह को छापामारी कर दबोच लिया है।दोनों आरोपी पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं को पैसे भेजते थे, हलाकि पैसों में इनका भी कमीशन रहता था जिसके तहत इनको 10- 20 प्रतिशत दिया जाता था

पकड़े गये लोगों संजय सरोज, नीरज मिश्रा, साहिल मसीह, घनश्याम सिंह, उमा प्रताप सिंह, मुकेश प्रसाद, निखिल राय, अंकुर राय, दयानन्द यादव, नसीम अहमद तथा नईम अरशद में से कुछ लोगों के तार सीधे तौर पर पाकिस्तान से जुड़े हैं। अरुण ने बताया कि जांच में यह खुलासा हुआ कि गिरफ्तार निखिल राय का नाम वास्तव में मुशर्रफ अंसारी है और वह कुशीनगर का रहने वाला है। इस मामले में उसकी भूमिका की गहनता से जांच हो रही है।

महानिरीक्षक ATS ने बताया कि आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का कोई सदस्य लाहौर से फोन और इंटरनेट के जरिये अपने नेटवर्क के सदस्यों के सम्पर्क में रहता था और उनसे फर्जी नाम से बैंक खाते खोलने के लिये कहता था। वह बताता था कि कितना धन किस खाते में डालना है।

इन आरोपियों के पास से बड़ी संख्या में एटीएम कार्ड, लगभग 42 लाख रुपये नकद, छह स्वैप मशीनें, मैग्नेटिक कार्ड रीडर, तीन लैपटॉप, एक देसी पिस्तौल और 10 कारतूस, बड़ी संख्या में अलग-अलग बैंकों की पासबुक इत्यादि बरामद किये गये हैं। असीम अरुण ने यह भी कहा की  सभी दस्तावेजो की सघनता से जाँच करने के बाद आरोपियों पर कार्यवाही की जायेगी.

 


दर्शनार्थियों के साथ हुई लूट, जवाबदारी के बावजूद पार्किंग ठेकेदार ने की अभद

मैहर की सभा में राजेंद्र सिंह ने कमलनाथ को बताया भावी मुख्यमंत्री


 VT PADTAL