VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Friday 30th of March 2018 | सुरक्षित नहीं सुरक्षा व्यवस्था

सुरक्षित नहीं सुरक्षा व्यवस्था, डायल 100 में हुआ हमला


रीवा । बैकुंठपुर थानाक्षेत्र अंतर्गत मझिगवां में कुछ आसमाजिक तत्वों के द्वारा फर्जी सूचना देकर बुलाई गई पुलिस की डायल 100 वाहन में शराबियों ने हमला कर दिया तथा वाहन में सवार पुलिस कर्मियों के साथ झड़प कर गाली गलौज करने लगे जिसके बाद खुद पुलिस वाहन वहां से अपनी जान बचाकर भाग खड़ी हुई.

दरअसल गुरुवार की देर रात मझिगवा गाँव के कुछ अज्ञात बदमाशों ने डायल 100 वाहन को फर्जी सूचना देकर गांव में बुलाया था तथा मौके पर पहुंची पुलिस वाहन के साथ शराबियों ने झड़प करनी शुरु कर दी जिससे खुद पुलिस की वाहन में सवार पुलिसकर्मी अपनी जान बचाकर भाग गए. हालाकि अब पुलिस आरोपियों की जांच में चुट चुकी है लेकिन फिर भी डायल 100 वाहन पर हुए हमले के प्रयास से पुलिस प्रशासन की बड़ी लापारवाही उजागर हुई है. इसके साथ ही सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार बैकुंठपुर में आए दिन अबैध शराब तथा सरेराह गांजा और मेडिकल पदार्थों की बिक्री होती रहती है जिसपर पुलिस प्रशासन के द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाई नहीं की जाती है.

आपको बतादें डायल 100 में हुए हमले से साफ जाहिर होता है कि बैकुंठपुर की पुलिस व्यवस्था किस ओर जा रही है. वहीं सूत्र बताते हैं कि बैकुंठपुर की डायल 100 वाहन रात्रि में मात्र एक नगर सैनिक के भरोसे पर छोड़ दी जाती है और थाने की पुलिस का कहीं कोई पता नहीं रहता है ऐसे में इस तरह की घटना पुलिस की लचर व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर रही है.


एट्रोसिटी एक्ट को ख़त्म करना होगा पार्टी का मुख्य मुद्दा : लक्ष्मण तिवारी

टीआरएस कॉलेज का निरीक्षण करने आएगी नैक की टीम


 VT PADTAL