VT Update
पूर्व प्राचार्य पर दर्ज F.I.R रद्द करने की उठी मांग, प्राध्यापको ने की बैठक ब्रम्हण समाज ने सौपा एस.पी को ज्ञापन R.P.F के D.I.G विजय कुमार खातरकर रेलवे ने रेलवे अफसर की पत्नी के साथ की छेड़छाड़, नरसिंहपुर के पास ओवरनाइट एक्सप्रेस मे वारदात,F.I.R दर्ज इंदौर का देवी अहिल्याबाई होल्कर एयरपोर्ट अब बन गया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, सोमवार को पहली बार इंदौर से दुबई के लिए अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट ने भरी उड़ान राहुल के इस्तीफे के 50 दिन बाद भी अब तक किसी को नहीं चुना गया कांग्रेस अध्यक्ष , कर्नाटक विवाद सुलझने के बाद फैसले की उम्मीद भारतीय नौसेना की बढ़ाई जा रही ताकत, जल्द खरीदी जा सकती हैं 100 टारपीडो मिसाइल, 2000 करोड़ का टेंडर जारी
Monday 16th of April 2018 | योग्यता दरकिनार हो रही है

गोपाल भार्गव का ताजा बयान पार्टी के लिए मुसीबत बन सकता है.


SC-ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ दलितों ने 2 अप्रैल को भारत बंद का आयोजन किया था.इस दौरान पूरे देश में हुई हिंसा ने देश को अपनी चपेट में ले लिया. कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ विपक्ष ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला भी बोला तभी से भाजपा अपने दलित वोटरों को साधने का प्रयास कर रही है हालांकि मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार में मंत्री गोपाल भार्गव का ताजा बयान पार्टी के लिए मुसीबत बन सकता है.

भार्गव ने रविवार को नरसिंहपुर जिले में ब्राह्मण समाज द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि 'यदि योग्यता को दरकिनार करके अयोग्य लोगों का चयन किया जाए, यदि 90 फीसदी वाले को बैठा दिया जाएगा और 40 फीसदी वाले की नियुक्ति की जाए तो यह देश के लिए घातक है.' उन्होंने कहा इससे हमारा देश पिछड़ जाएगा. कहीं ब्राह्मणों के साथ अन्याय न हो जाए. यह प्रतिभा के साथ एक मजाक है और ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय हो रहा है.

हालांकि अपने बयान पर बाद में उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान को राजनीतिक कारणों से तोड़ मरोड़ कर प्रस्तुत किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि वह आरक्षण के घोर समर्थक हैं और उन्होंने अपने बयान में आरक्षण शब्द का कहीं प्रयोग नहीं किया. भार्गव के मुताबिक उनके 40 साल के राजनीतिक करियर में भी उन्होंने कभी आरक्षण शब्द का उल्लेख नहीं किया.कार्यक्रम में कांग्रेस के पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी भी थे.दरअसल चुनावी साल में राजनैतिक दलों और उनके नेताओं को हर कदम फूंक-फूंक कर रखना चाहिए.सोशल मीडिया में मंत्री गोपाल भार्गव का यह बयान आने के बाद ब्राम्हण समुदाय के संगठन और लोगों ने समर्थन किया है.


खजाना भरने के लिए बाजार पहुंची कमलनाथ सरकार, मांगा 1 हजार करोड़ का कर्ज

इंदौर एयरपोर्ट से दुबई के लिए आज़ उड़ान भरेगी एयर इंडिया, 29 मई को इंटरनेशनल एय


 VT PADTAL