VT Update
देश के हर घर को बिजली देने की कोशिश हो रही है: राष्ट्रपति कोविंद सरकार ने गरीबों के लिए बैंकिंग सुविधा को आसान किया: राष्ट्रपति कोविंद रामगढ़ उपचुनाव: कांग्रेस की साफिया खान जीतीं J-K:अनंतनाग में पुलिस स्टेशन पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिक और 1 जवान घायल गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष
Tuesday 24th of April 2018 | अबकी बार महगाई की मार, पेट्रोल 81 तो डीजल 70 रु. पार

रीवा में पेट्रोल 81 रूपए तो डीजल 70 रूपए पार, जनता त्रस्त


 

रीवा. प्रदेश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं ,फिर केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी कम करने को राजी नही है, जिसके कारण   प्रदेश में पेट्रोल और डीजल के भाव अपने चरम स्तर पर पहुंच गए है। रीवा में पहली बार जहां पेट्रोल 81.53 स्र्पए प्रति लीटर तो डीजल 70.61 स्र्पए लीटर हो गया है। वहीं मई माह में पेट्रोल के दाम 90 स्र्पए तो डीजल 80 स्र्पए प्रति लीटर तक जाने की संभावना है। रविवार के मुकाबले इसकी कीमत में 0.14 पैसे की वृद्धि पेट्रोल में हुई है। डीजल के भाव भी थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

 

4 सालों में पेट्रोल में 105% तो डीजल में 330% बढाई ड्यूटी

टैक्सेज की बात करें तो पेट्रोल की कीमतों का 47.4 % हिस्सा टैक्स के रूप में जाता है. जबकि डीजल की कीमतों का 38 % टैक्स के रूप में वसूला जाता है, 1अप्रैल 2014 को पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 9.48रूपए प्रति लीटर थी, अब 19.48 रूपए है, मतलब 105% अधिक जबकि अगर डीजल की बात करें तो अप्रैल 2014 में एक्साइज ड्यूटी 3.56 रुपये थी. जो अब 15.33 रूपए हो गयी है मतलब 330% अधिक.

 

हालांकि पेट्रोलियम कंपनियां फ्यूल के दाम बढ़ने के पीछे कारण,अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दामों में लगातार इजाफा होना, बता रहे हैं। इधर इस मामले में मप्र पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय सिंह का कहना है कि 16 जून 2017 से देशभर में हर रोज पेट्रोल एवं डीजल के दाम बदल रहे हैं।1 जनवरी 18 से 23 अप्रैल तक, इन चार महीनों में पेट्रोल की कीमतों में करीब 4 रुपए का इजाफा हुआ है। बता दें कि पेट्रोल और डीजल में मप्र सरकार 4 स्र्पए प्रति लीटर के हिसाब से सेस और 28 प्रतिशत वैट वसूलती है।  

 


जारी हुई विद्युत विभाग की नई स्कीम, 100 युनिट बिल पर करना होगा 100 रुपये का भुगतान

टीआरएस कॉलेज से शुरू हुआ सिटी बसों का सञ्चालन


 VT PADTAL